Friday , December 15 2017

कांग्रेस, तेलूगूदेशम और वाई ऐस आर सी पी तेलंगाना रियासत के क़ियाम में रुकावट

तेलंगाना राष़्ट्रा समीती के डिप्टी लीडर हरीश राव ने इल्ज़ाम आइद किया कि कांग्रेस, तेलूगूदेशम और वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी अलहदा तेलंगाना रियासत के क़ियाम में अहम रुकावट हैं। मीडीया के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए हरीश राव ने कह

तेलंगाना राष़्ट्रा समीती के डिप्टी लीडर हरीश राव ने इल्ज़ाम आइद किया कि कांग्रेस, तेलूगूदेशम और वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी अलहदा तेलंगाना रियासत के क़ियाम में अहम रुकावट हैं। मीडीया के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए हरीश राव ने कहा कि तीनों जमाअतें अवाम के दरमयान तो तेलंगाना के हक़ में होने का दावा कर रही हैं लेकिन इन का मौक़िफ़ 28 दिसंबर के कुल जमाअती इजलास में मंज़रे आम पर आजाएगा।

उन्हों ने अंदेशा ज़ाहिर किया कि मर्कज़ी हुकूमत की जानिब से तलब करदा कुल जमाअती इजलास तेलंगाना मसला की यकसूई में मुआविन साबित नहीं हो पाएगा। उन्हों ने इन तीनों जमाअतों से मांग की कि वो इजलास से क़बल अपने मौक़िफ़ की वज़ाहत करें और इस बात का ऐलान करें कि उन की जानिब से सिर्फ़ एक ही नुमाइंदा इजलास में शरीक होगा। हरीश राव ने कहा कि मर्कज़ ने हर पार्टी से दो नुमाइंदों को मदऊ करते हुए कुल जमाती इजलास को एक मज़ाक़ बनादिया है।

कुल जमाअती इजलास में कांग्रेस की जानिब से अपना मौक़िफ़ वाज़ेह ना करने से मुताल्लिक़ इत्तिलाआत पर शदीद रद्द-ए-अमल का इज़हार करते हुए हरीश राव ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को भी इस इजलास में अपना मौक़िफ़ पेश करना चाहीए। वो भी रियासत की दीगर जमातों की तरह अपना मौक़िफ़ वाज़ेह करे वर्ना तेलंगाना में कांग्रेस, तेलूगूदेशम और वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी का सफ़ाया हो जाएगा।

TOPPOPULARRECENT