Saturday , December 16 2017

कांग्रेस ने सियासी फ़ायदे के लिए तेलंगाना बिल पेश किया

बी जे पी लीडर एम वेंकया नायडू ने कहा कि कांग्रेस वज़ारत आज़मी ओहदे के लिए बी जे पी उम्मीदवार नरेंद्र मोदी से घबरा रही है और उसे मोदी का बुख़ार चढ़ गया है।

बी जे पी लीडर एम वेंकया नायडू ने कहा कि कांग्रेस वज़ारत आज़मी ओहदे के लिए बी जे पी उम्मीदवार नरेंद्र मोदी से घबरा रही है और उसे मोदी का बुख़ार चढ़ गया है।

जिस के नतीजे में वोटों और सीटों के हुसूल के लिए कांग्रेस ने तेलंगाना बिल पार्लियामेंट में पेश क्या। मीडिया से बात करते हुए नायडू ने कहा कि पार्लियामेंट में तेलंगाना बिल पर मुबाहिस के मौके पर सोनिया गांधी , राहू गांधी और वज़ीर आज़म मनमोहन सिंह ने मीटिंग में शरीक ना होकर ग़लत नज़ीर क़ायम की है।

उन्होंने कहा कि सीमांध्र के लिए ख़ुसूसी मौक़िफ़ फ़राहम करवाने बी जे पी के सिवा किसी ने जद्द-ओ-जहद नहीं की। उन्होंने बी जे पी के ताल्लुक़ से मर्कज़ी वज़ीर जय राम रमेश के बाज़ रिमार्कस की मज़म्मत की और कहा कि सीमांध्र के लिए ख़ुसूसी मौक़िफ़ के मसले पर किसी कांग्रेस क़ाइद ने बात नहीं की।

तेलंगाना अवाम से बी जे पी ने अपने वादे के मुताबिक़ बिल की ताईद की। लेकिन कांग्रेस की तरफ से बिल की ताईद के सिवा बी जे पी को कोई चारा ना रहने का इज़हार करना मुनासिब नहीं है।

नायडू ने इल्ज़ाम लाग‌या कि पारलीमानी चुनाव के इमकानात को पेश नज़र रखते हुए ही कांग्रेस ने पार्लियामेंट में तेलंगाना बिल पेश किया है और कहा कि राज्य सभा चुनाव तक किरण कुमार रेड्डी से काम लिया और इस्तिफ़सार किया जा रहा है कि किरण कुमार रेड्डी कौन थे।

उन्होंने अपने इस ख़दशा का इज़हार किया कि आम चुनाव के बाद तमाम मर्कज़ी वुज़रा भी दरयाफ़त करेंगे कि सोनिया गांधी कौन हैं । उन्होंने कहा कि कांग्रेस इबतिदा ही से तेलुगु अवाम को कम नज़र से ही देखती रही है।

नायडू ने कहा कि चीफ सेक्रेटरी डॉ पी के मोहंती की मीआद मुकम्मिल होने के बावजूद किसी अहम वजह के बगैर एक तेलुगु ओहदेदार को नज़रअंदाज करके डॉ मोहंती को मज़ीद चार माह ख़िदमात अंजाम देने की तौसीअ दी गई।

उन्होंने इस्तिफ़सार किया कि आया तेलुगु ओहदेदारों में चीफ सेक्रेटरी ओहदे के फ़राइज़ अंजाम देने की कोई सलाहियत नहीं है। बी जे पी क़ाइद ने कहा कि मोहंती की बरक़रार के लिए मर्कज़ को गवर्नर का रिपोर्ट रवाना करना ग़लत है।

TOPPOPULARRECENT