कांग्रेस प्रत्‍याशी मधुसूदन त्रिपाठी का बड़ा बयान, सीएम योगी आदित्‍यनाथ दंगा करा सकते हैं !

कांग्रेस प्रत्‍याशी मधुसूदन त्रिपाठी का बड़ा बयान, सीएम योगी आदित्‍यनाथ दंगा करा सकते हैं !

कांग्रेस प्रत्‍याशी मधुसूदन त्रिपाठी ने मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ पर गंभीर आरोप लगाया है. उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें इस बात का डर है कि वे सातवें चरण के गोरखपुर के चुनाव में ईवीएम में गड़बड़ी और दंगा करा सकते हैं. वे यहीं नहीं रुके. उन्‍होंने कहा कि यही वजह है कि वे गोरखपुर में बैठ गए हैं. वे रात में लाइट कटवाकर ईवीएम में गड़बड़ी करा रहे हैं, जिससे वोट तो बटन तो पंजे का दबाएंगे और वोट कमल के फूल को पड़ेगा. ये आरोप उन्‍होंने उस वक्‍त लगाए हैं, जब प्रशासन ने कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता प्रमोद तिवारी की सभा को इजाजत होने के बाद भी रोक दिया.

 

कांग्रेस के गोरखपुर से प्रत्‍याशी मधुसूदन त्रिपाठी ने कहा कि आप देख सकते हैं कि लोकतंत्र की योगी आदित्‍यनाथ ने कैसे हत्‍या कर दी है. उन्‍होंने कहा कि पूर्णिया में जब उनका हेलीकाप्‍टर उतरने नहीं दिया गया था, तब उन्‍होंने कहा था कि ये लोकतंत्र की हत्‍या है. आज प्रमोद तिवारी का हरपुर बाजार में इजाजत के बावजूद हेलीकाप्‍टर नहीं उतरने दिया गया. उनका कहना है कि शासन-प्रशासन का कोई जिम्‍मेदार मौजूद नहीं है, तो मेरी क्‍या गलती है.

 

मधुसूदन त्रिपाठी बोले कि वहां के 15-20 गांव ब्राह्मण बहुल हैं. यही वजह है कि प्रमोद तिवारी के हेलीकाप्‍टर को उतरने नहीं दिया गया. उन्होंने कहा कि योगी गोरखपुर में आकर बैठ गए हैं. वे जान रहे हैं कि वे बाहरी प्रत्‍याशी को खड़ा करने की गलती कर चुके हैं. यहां की जनता ने उन्‍हें नकार दिया है. किसी नचनिया को यहां के लोग स्‍वीकार नहीं करेंगे. उनका कहना है कि चुनाव आयोग भी मोदी-योगी के दबाव में है. बीजेपी प्रत्‍याशी का पर्चा भी गलत भरा गया है. उसके बावजूद चुनाव आयोग उनके दबाव में काम कर रहा है. इसकी उन्‍होंने शिकायत भी की है.

 

मधुसूदन त्रिपाठी ने कहा कि योगी बौखलाहट में इस तरह का काम कर रहे हैं. उनके ऊपर चुनाव नहीं लड़ने का दबाव बनाया जा रहा है. उन्‍होंने कहा कि ईवीएम मशीन में उन्‍हें गड़बड़ी की आशंका है. वहां पर प्राइवेट आदमी क्‍यों जाते हैं जहां ईवीएम रखा हुआ है. मैं यहां का बेटा हूं. जनता मेरे साथ है. बीजेपी प्रत्‍याशी को जनता नकार चुकी है. उनसे कोई लड़ाई नहीं है. योगी लड़ाई बनाना चाहते हैं. ईवीएम पर मुझे कोई विश्‍वास नहीं है. जनता मुझे वोट देगी. लेकिन, योगी इसे ईवीएम से बीजेपी में कनवर्ट करा सकते हैं. बटन पंजा का दबाएंगे और जाएगा फूल को.चुनाव आयोग इस पर कार्रवाई करे.

 

कांग्रेस प्रत्याशी ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस यहां पर दंगा फसाद न कराएं. चुनाव आयोग अच्‍छे से चुनाव कराए. ऐसा न हो यहां पर कोई चुनाव लड़ने न आए. छह चरण में दंगा नहीं होने पर उन्‍हें सातवें चरण में दंगा होने की आशंका क्‍यों हैं. इस सवाल पर उन्‍होंने कहा कि क्‍योंकि ये उनका जिला है. इसलिए उन्हे आशंका है. क्‍योंकि उनकी जमीन खिसक चुकी है और उनके पास दंगा के अलावा कुछ और नहीं है.

Top Stories