Friday , December 15 2017

कांग्रेस बी जे पी को यक्का-ओ-तन्हा करने की हिक्मत-ए-अमली पर तबादला-ए-ख़्याल

सी पी आई (ऐम) की मर्कज़ी क़ियादत ने बाएं बाज़ू की दीगर जमातों और इलाक़ाई पार्टीयों के साथ इत्तिहाद के ज़रीये कांग्रेस और बी जे पी को सयासी तौर पर यक्का-ओ-तन्हा करदेने के मुख़्तलिफ़ रास्तों पर ग़ौर करने की शुरुआत‌ करदिया है। इस के साथ हिमा

सी पी आई (ऐम) की मर्कज़ी क़ियादत ने बाएं बाज़ू की दीगर जमातों और इलाक़ाई पार्टीयों के साथ इत्तिहाद के ज़रीये कांग्रेस और बी जे पी को सयासी तौर पर यक्का-ओ-तन्हा करदेने के मुख़्तलिफ़ रास्तों पर ग़ौर करने की शुरुआत‌ करदिया है। इस के साथ हिमाचल प्रदेश और गुजरात में होने वाले असैंबली चुनाव‌ की तैयारीयों की क़तई सूरत गिरी भी की है।

सी पी आई (ऐम) की मर्कज़ी कमेटी के मिटींग‌ में जो कल भी जारी रहेगा, अपनी आख़िरी ताक़तवर गढ़ त्रिपुरा में अगले साल मुनाक़िदा शुदणी की तैयारीयों पर भी ख़्याल किया जाएगा। त्रिपुरा में सी पी आई (ऐम) की ज़ेर-ए-क़ियादत बाएं बाज़ू महाज़ की पिछ्ले 19 साल से हुक्मरानी है।

मिटींग‌ में आज के मुबाहिस के दौरान मग़रिबी बंगाल में हलक़ा लोक सभा जंगी पूरा से सदर जमहूरीया प्रण‌ब मुकर्जी के फ़र्ज़ंद अभीजीत की महिज़ 2,500 वोटों की मामूली अक्सरीयत से कामयाबी का तज़किरा भी किया गया। कांग्रेस के उम्मीदवार अभीजीत को ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस की ताईद भी हासिल थी।

सी पी आई (ऐम) के ज़राए ने कहा कि ताज़ा तरीन इंतिख़ाबी नतीजा ने कांग्रेस। तृणमूल के मुक़ाबले हमारी हक़ीक़ी ताक़त को साबित करदिया है। 2009 के लोक सभा चुनाव‌ में मिस्टर प्रणब मुकर्जी एक लाख 28 हज़ार वोटों की भारी अक्सरीयत से मुंतख़ब हुए थे। सी पी आई (ऐम) ज़राए ने कहा कि ये नतीजा इस बात का इशारा है कि आइन्दा साल मुनाक़िद शुदणी पंचायत चुनाव‌ में कमीयूनिसट पार्टीयां कामयाब होंगी। बड़ी कमीयूनिसट पार्टीयां पहले ही ग़ैर कांग्रेस और ग़ीरबी जे पी पार्टीयों तलगुदेशम, बी जे डी और जय डी इसके साथ इत्तिहाद करती रही हैं।

TOPPOPULARRECENT