Monday , December 11 2017

कांग्रेस या भाजपा के हिमायत के बिना कोई तीसरा मोर्चा नहीं : पासवान

लोक जनशक्ति पार्टी के सरबराह रामविलास पासवान ने कहा कि अगले साल आम इंतिख़ाबात के बाद अगर तीसरे मोर्चे को उभरना है, तो उसे कांग्रेस या भाजपा में से किसी एक का हिमायत जरूरी है। पासवान ने कहा, देखिए, कांग्रेस या भाजपा के हिमायत के बिना

लोक जनशक्ति पार्टी के सरबराह रामविलास पासवान ने कहा कि अगले साल आम इंतिख़ाबात के बाद अगर तीसरे मोर्चे को उभरना है, तो उसे कांग्रेस या भाजपा में से किसी एक का हिमायत जरूरी है। पासवान ने कहा, देखिए, कांग्रेस या भाजपा के हिमायत के बिना तीसरा मोर्चा मुमकिन नहीं है।

उनका हिमायत लाज़्मी है। चूंकि इत्तिहाद को सेकुलर रहना है तो वह भाजपा का हिमायत तो नहीं ले सकती, उसे कांग्रेस का हिमायत लेना होगा। इसलिए मैंने कहा है कि अहम मुद्दा कांग्रेस है और लोजपा कांग्रेस के साथ इत्तिहाद बनाये रखना चाहती है। चारा घोटाला के सिलसिले में राजद सरबराह लालू प्रसाद के जेल में रहने के दरमियान पासवान ने कहा कि 2014 के लोकसभा इंतिखाबात से पहले मुश्तकबिल की पॉलिसी तय करने के लिए मौजूदा पार्टियों के दरमियान संगीन बातचीत की जरूरत है।

साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर ने एक इंटरव्यू में कहा कि लोजपा कांग्रेस के साथ इत्तिहाद बनाये रखना चाहती है लेकिन अपने साथियों के बारे में फैसला करने का ज़िम्मेवारी कांग्रेस पर है। उन्होंने कहा, हम चाहते हैं कि कांग्रेस के साथ हमारा इत्तिहाद बना रहे लेकिन इत्तिहाद के मुश्तकबिल की पॉलिसी के बारे में उन्हें तय करना है। फिलहाल हम राजद के साथ हैं लेकिन अब चूंकि लालू जी जेल में हैं और इंतिखाबात नजदीक आ रहा है तो इसलिए पार्टियों के दरमियान संजीदा बातचीत की जरूरत है।

TOPPOPULARRECENT