Sunday , December 17 2017

कानून नहीं मानते कानून के रखवाले!

धनबाद 10 जून : कानून की रखवाली करने वाले खुद तोड़ रहे हैं कानून। पुलिस के लिए तीन माह पहले कई नये गाड़ी आये। इसमें बोलेरो, सूमो जैसी बड़ी लक्जरी गाड़ियां शामिल हैं। पुलिस अफसर इन गाड़ियों का इस्तेमाल भी कर रहे हैं। लेकिन ज़्यादातर ग

धनबाद 10 जून : कानून की रखवाली करने वाले खुद तोड़ रहे हैं कानून। पुलिस के लिए तीन माह पहले कई नये गाड़ी आये। इसमें बोलेरो, सूमो जैसी बड़ी लक्जरी गाड़ियां शामिल हैं। पुलिस अफसर इन गाड़ियों का इस्तेमाल भी कर रहे हैं। लेकिन ज़्यादातर गाड़ियों में नंबर नहीं है। नंबर प्लेट की जगह पुलिस का बोर्ड जरूर लगा हुआ है। किसी में साहब के ओहदे का बोर्ड है।

अगर कोई आम आदमी इस तरह अपने गाडी पर चले तो पुलिस के पचड़े में पड़ना तय है। ट्रांसपोर्ट महकमा की भी गाज आम लोगों पर ही गिरती है। जबकि असूलों के मुताबिक नयी गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन एक हफ्ता के अंदर कराया जाना जरूरी है। लेकिन कानून के रखवालों पर कौन चलायेगा कानून का डंडा?

जुर्माना के साथ रजिस्ट्रेशन होगा

जिला नक़ल व हमल ओहदेदार रविराज शर्मा के मुताबिक जिस गाड़ी का रजिस्ट्रेशन जाती गाड़ी के तौर में होता है, उसे एक हफ्ता के अंदर रजिस्ट्रेशन नहीं कराने पर टैक्स का दो फिसद रकम जुर्माना के तौर में फी माह वसूली जाती है। यह फरहमी सरकारी गाड़ियों के लिए भी है। मिस्टर शर्मा ने कहा कि आल्लोटमेंट के गैर मौजूदगी में कभी-कभी सरकारी गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन में ताखीर होती है। लेकिन इनसे भी जुर्माना लिया जाता है।

TOPPOPULARRECENT