Tuesday , December 19 2017

काबुल पर जंगजू हमला की मुज़म्मत

अक़वाम-ए-मुत्तहिदा की सलामती कौंसल ने शदीद तरीन अल्फ़ाज़ में काबुल पर जंगजूओं के मुनज़्ज़म हमलों की मुज़म्मत की है जो कि शहर में एक दहाई से जारी जंग के दौरान जंगोओं का सबसे बड़ा हमला था। 5अरकान पर मुश्तमिल सलामती कौंसल ने एक ब्यान में कहा

अक़वाम-ए-मुत्तहिदा की सलामती कौंसल ने शदीद तरीन अल्फ़ाज़ में काबुल पर जंगजूओं के मुनज़्ज़म हमलों की मुज़म्मत की है जो कि शहर में एक दहाई से जारी जंग के दौरान जंगोओं का सबसे बड़ा हमला था। 5अरकान पर मुश्तमिल सलामती कौंसल ने एक ब्यान में कहा है कि दहश्तगर्दी की इन क़ाबिल गिरिफ्त कार्यवाईयों में मुलव्वस , उसे मुनज़्ज़म करने , माली मदद फ़राहम करने और मुआवनत फ़राहम करने वालों को इंसाफ़ के कटहरे में लाया जाए।

दहश्तगर्दी की कोई भी कार्रवाई अफ़्ग़ानिस्तान की इस पेशरफ्त को पीछे की तरफ़ नहीं धकेल सकती। जिसकी अफ़्ग़ान हुकूमत और अवाम हिमायत करते हैं

TOPPOPULARRECENT