Tuesday , December 19 2017

काबुल में सिफ़ारती इलाक़े पर हमला नाकाम

काबुल, 25 फ़रवरी: तालिबान के दो ख़ुदकुश बमबारों ने आज अफ़्ग़ान सेक्यूरिटी फोर्सेस के तीन अरकान को हलाक कर दिया। लेकिन काबुल के सिफ़ारती इलाके में तीसरा हमला उस वक़्त नाकाम होगया जब पुलिस ने हमला आवर को गोली मार दी। ओहदेदारों ने बताया कि

काबुल, 25 फ़रवरी: तालिबान के दो ख़ुदकुश बमबारों ने आज अफ़्ग़ान सेक्यूरिटी फोर्सेस के तीन अरकान को हलाक कर दिया। लेकिन काबुल के सिफ़ारती इलाके में तीसरा हमला उस वक़्त नाकाम होगया जब पुलिस ने हमला आवर को गोली मार दी। ओहदेदारों ने बताया कि हमला आवर जो ख़ुदकुश बेल्ट बांधे हुए था और उस की गाड़ी एस यू वी में धमाको माद्दा भरा हुआ था।

लेकिन पुलिस ने दारुल हुकूमत के सिफ़ारती इलाक़ा वज़ीर अकबर ख़ान में दाख़िल होने की कोशिश के दौरान फायरिंग शुरू करदी। पहले हमले में ख़ुदकुश बमबार ने धमाको मादों से लदी कार को जलालाबाद टाउन के जासूसी एजेसी दफ़्तर में घुसा दिया। इस के फ़ौरी बाद दारुल हुकूमत से 70 किलो मीटर दूर पुलिस चौकी को उसी अंदाज़ में हमले का निशाना बनाया गया।

तालिबान तर्जुमान ज़बीहुल्लाह मुजाहिद ने इन दो हमलों की ज़िम्मेदारी क़बूल की लेकिन काबुल में नाकाम हमले में तालिबान के मुलव्विस होने की तरदीद की। हुक्काम ने बताया कि काबुल में दो ख़ुदकुश हमला आवरों को हलाक कर दिया गया, लेकिन सिटी पुलिस सरबराह मुहम्मद अय्यूब ने कहा कि इस हमले में सिर्फ़ एक हमला आवर मुलव्विस था।

उन्होंने बताया कि हमें इंटेलिजेंस ज़राए से इस हमले के बारे में इत्तेला मिल चुकी थी। हमला आवर को हलाक कर दिया गया और उस की कार बम को नाकारा बनादिया गया। ए एफ़ के फ़ोटोग्राफ़र ने इस मुक़ाम पर एक नौजवान को ख़ून में लत पत् मुर्दा हालत में पड़ा हुआ देखा और इस के क़रीब सड़क के दूसरी जानिब कार मौजूद थी।

TOPPOPULARRECENT