Friday , September 21 2018

कार में दम घुटने से बच्चे की मौत

महाराष्ट्र के पुणे के चाकन इलाके में गाड़ी में बंद मासूम की दम घुटने से मौत हो गई. बुधवार को पांच वर्षीय करण पांडे अपने दोस्तों के साथ घर के बाहर खेल रहा था. वह दोपहर 12 बजे वहां खड़ी मारुति एस्टीम कार में बैठ गया और गलती से कार उससे लॉक हो गई. दोपहर का वक्त था और गाड़ी धूप में खड़ी थी. कार के शीशे भी बंद थे. इसके चलते दम घुटने से उसकी जान चली गई.

मासूम करण पांडे ने करीब छह घंटों तक खुद को बचाने की जद्दोजहद की, लेकिन सफल नहीं हुआ. दम घुटने के साथ ही उसकी चमड़ी भी झुलस गई थी. दोपहर में उसकी मां अस्पताल से आई और करण को घर में न पाकर खोजने लगी. आखिर छह बजे करण के पिता को कार में करण की लाश दिखी. वहीं, मृतक मासूम के रिश्तेदारों ने सवाल उठाया किया कि करण का शरीर जगह-जगह झुलस कैसे गया?

मुख्य वैद्यकीय अधिकारी मनोज देशमुख ने बताया कि दम घुटने से मौत होती है, क्योंकि ऑक्सीजन के बगैर इंसान सिर्फ तीन मिनट तक ही जिंदा रह सकता है. कार के कांच बंद होने के कारण दम घुटने से हुई होगी. धूप के कारण कार गरम होने से मृत शरीर की चमड़ी भी गल सकती है. हालांकि असलियत तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही सामने आएगी. फिलहाल पुणे ग्रामीण पुलिस इस मामले की तफ्तीश कर रही है.

TOPPOPULARRECENT