Wednesday , December 13 2017

किताब नहीं मिली तालेबा ने दे दी जान

रांची 5 मई : किताब नहीं खरीद पाने की वजह से सुखदेव नगर थाना इलाके के अलकापुरी चौधरी गली की आभा कुमारी ने फांसी लगा कर खुदकशी कर ली। वह 10 वीं की तालेबा थी। मारवाड़ी कन्या स्कूल में पढ़ती थी। पिता विजय चौधरी ऑटो ड्राईवर हैं। घर में तंग

रांची 5 मई : किताब नहीं खरीद पाने की वजह से सुखदेव नगर थाना इलाके के अलकापुरी चौधरी गली की आभा कुमारी ने फांसी लगा कर खुदकशी कर ली। वह 10 वीं की तालेबा थी। मारवाड़ी कन्या स्कूल में पढ़ती थी। पिता विजय चौधरी ऑटो ड्राईवर हैं। घर में तंगी की हालत रहती थी। इसलिए घर वाले उसके लिए किताब खरीद नहीं सकते थे।

पुलिस के मुताबिक, आभा स्कूल की किताबें खरीदने के लिए बार-बार वालिद को कहती थी। पर गरीबी की वज़ह उसके वालिद किताब नहीं खरीद पा रहे थे। इससे वह परेशान थी। चार दिन पहले ही वालिद ने उसके लिए कुछ किताबें खरीद कर लायी। पर यह उसकी जरूरत को पूरी नहीं कर सकी। इससे वह और ज्यादा परेशान रहने लगी।

बाथरूम में लगायी फांसी

जानकारी के मुताबिक, आभा शनिचर को स्कूल से लौटने के बाद बाथरूम में एंगल के सहारे गमछा से लटक गयी। काफी देर तक बाथरूम से नहीं निकलने पर घर वाले दरवाजा तोड। कर अंदर गये। इसके बाद उसे नीचे उतारा, पर तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। इत्तेला मिलने के बाद पुलिस पहुंची। लाश को अपने कब्जे में कर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया।

TOPPOPULARRECENT