Thursday , December 14 2017

किरण कुमार रेडडी हुकूमत हर महाज़ पर नाकाम

रियास्ती सी पी आई ऐम ने चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेडडी की ज़ेर क़ियादत रियास्ती कांग्रेस हुकूमत को अवाम केलिए इंतेहाई नाकारा नुक़्सानदेह और बेफ़ैज़ हुकूमत (मद्दाना शटम हुकूमत) से ताबीर किया और कहा के मिस्टर किरण कुमार रेडडी

रियास्ती सी पी आई ऐम ने चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेडडी की ज़ेर क़ियादत रियास्ती कांग्रेस हुकूमत को अवाम केलिए इंतेहाई नाकारा नुक़्सानदेह और बेफ़ैज़ हुकूमत (मद्दाना शटम हुकूमत) से ताबीर किया और कहा के मिस्टर किरण कुमार रेडडी हुकूमत हर महाज़ पर नाकाम ही साबित होरही है जबके रियास्ती हुकूमत क़ीमतों में इज़ाफ़ा का तदारुक करने में, फ़लाह बहबूदी प्रोग्रामों पर अमल आवरी मैं, बर्क़ी सूरत हाल से निमटने में नाकाम साबित होचुकी है।

बर्क़ी पैदावार को यक़ीनी बनाने में रियास्ती हुकूमत अपनी नाएहली का सबूत देते हुए रियासत में बर्क़ी की संगीन सूरत हाल पैदा कर रखी है। जिस की वझे से अवाम को काफ़ी मुश्किलात का सामना करना पड़ रहा है। आज यहां पार्टी हेडक्वार्टर पर अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए रियास्ती सैक्रेटरी सी पी आई ऐम मिस्टर बीवी राघवल्लू ने ये बात कही और बताया के विशाखापटनम में बाज़ मादिनी ज़ख़ाइर की खुदवाई को रोकने केलिए मर्कज़ी वज़ीर मिस्टर वे किशवर चन्द्र देव ने चीफ़ मिनिस्टर को बाक़ायदा तौर पर एक ख़त रवाना किया था लेकिन इस ख़त पर अमल आवरी करने में रियास्ती हुकूमत नाकाम साबित हुई।

उन्हों ने अख़बारी नुमाइंदों के सवालात का जवाब देते हुए कहा के पदयात्रा करने का हर किसी को मुकम्मल हक़ हासिल है और किसी भी जमात या क़ाइदीन की पदयात्रा में रुकावट पैदा करने की कोशिश करना मुनासिब बात नहीं है।

अपनी पदयात्रा से पहले ही अवाम के किसी मुतालिबा पर अपने मौक़िफ़ को वाज़िह करके पदयात्रा शुरू करना बहुत अच्छी बात है ताके अवाम किसी रुकावटें पैदा करने से गुरेज़ करसकें। उन्हों ने कहा के तेलंगाना अवाम तेलगोगदेशम पार्टी से अलैहदा रियासत तेलंगाना के मुतालिबा पर अपने मौक़िफ़ को वाज़िह करने का मुतालिबा कररहे हैं लिहाज़ा अलैहदा रियासत तेलंगाना के मुतालिबा पर तेलगोदीशम पार्टी को अपने क़तई मौक़िफ़ से तेलंगाना अवाम को वाक़िफ़ करवाना चाहीए।

वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी श्रीमती वाई ऐस वजए लक्ष्मी की तरफ से अपने साथ मज़हबी किताब बाइबल रखने पर बाज़ गोशों से की जाने वाली मुख़ालिफ़त तन्क़ीदों से मुताल्लिक़ पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए श्रीमती वाई वाई ऐस वजए लक्ष्मी अपने अक़ीदे के लिहाज़ से अपनी किताब रखना कोई ग़लत बात नहीं है बलके किसी मज़हबी किताब के ताल्लुक़ से ग़लत इज़हार ख़्याल करना ये कोई मुनासिब बात नहीं है।

उन्हों ने कहा के हर किसी को अपनी मज़हबी किताब रखने का मुकम्मल हक़ हासिल है

TOPPOPULARRECENT