Friday , September 21 2018

किरण कुमार रेड्डी चंद्रा बाबू नायडू में मैच फिक्सिंग हरीश राव

हैदराबाद।19 नवंबर (सियासत न्यूज़) टी आर ऐस रुकन असमबली हरीश राओ ने सदर तेलगुदेशम चंद्रा बाबू नायडू पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो रियासत की किरण कुमार रेड्डी हुकूमत का तहफ़्फ़ुज़ कररहे हैं। अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए हरीश राओ

हैदराबाद।19 नवंबर (सियासत न्यूज़) टी आर ऐस रुकन असमबली हरीश राओ ने सदर तेलगुदेशम चंद्रा बाबू नायडू पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो रियासत की किरण कुमार रेड्डी हुकूमत का तहफ़्फ़ुज़ कररहे हैं। अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए हरीश राओ ने कहा कि चंद्रा बाबू नायडू और किरण कुमार रेड्डी में मैच फिक्सिंग होचुकी है और वो एक दूसरे को बचाने की मुहिम पर हैं।

उन्हों ने कहा कि चंद्रा बाबू नायडू के ख़िलाफ़ अदालत की जानिब से असासा जात की तहक़ीक़ात के हुक्म पर रियास्ती हुकूमत ने किसी रद्द-ए-अमल का इज़हार नहीं किया। इस के बरख़िलाफ़ तेलगुदेशम बाअज़ क़ाइदीन ने राज़दाराना तौर पर चीफ़ मिनिस्टर से मुलाक़ात की। उन्हों ने कहा कि हुकूमत को ब्लैक मेल करने के लिए चंद्रा बाबू नायडू असमबली में तहरीक अदमे इअतिमाद पेश करने की धमकी दे रहे हैं, लेकिन वो ये तहरीक पेश करने वाले नहीं। उन्हों ने कहा कि साबिक़ मैं चंद्रा बाबू नायडू इस तरह की धमकीयां दे चुके हैं लेकिन लम्हा आख़िर में उन्हों ने अपना फ़ैसला वापिस ले लिया।

हरीश राओ ने चंद्रा बाबू नायडू को चैलेंज किया कि अगर वो हुकूमत की पालिसीयों से नाराज़ हैं तो असमबली में तहरीक अदमे इअतिमाद पेश करके दिखाएंगे। मौजूदा हालात में जबकि कांग्रेस के कई अरकान असमबली ने अपने एस्तीफ़े पेश कि, हुकूमत अक्सरीयत से महरूम होचुकी है। उन्हों ने कहा कि चंद्रा बाबू नायडू तहरीक अदमे इअतिमाद के नाम पर अपना तहफ़्फ़ुज़ कररहे हैं।

टी आर ऐस रुकन असमबली ने इल्ज़ाम आइद किया कि नायडू को किसानों की फ़िक्र है लेकिन तेलंगाना के चार करोड़ अवाम के जज़बात का कोई एहतिराम नहीं जो अलैहदा रियासत का मुतालिबा कररहे हैं। इस मुतालिबा के तहत अब तक 600 से ज़ाइद नौजवानों ने अपनी जान क़ुर्बान करदी लेकिन तेलंगाना में पदयात्रा करते हुए नायडू ने इन ख़ानदानों के साथ हमदर्दी का एक लफ़्ज़ भी अदा नहीं किया। उन्हों ने कहा कि पदयात्रा के नाम पर नायडू अपना खोया हुआ वक़ार वापिस हासिल करने की कोशिश कररहे हैं।

हक़ीक़त ये है कि तेलंगाना मसला पर तेलगुदेशम के ग़ैर वाज़िह मौक़िफ़ के बाइस तेलंगाना में अवाम तेलगुदेशम को भुला चुके हैं। उन्हों ने कहाकि आने वाले इंतिख़ाबात में तेलंगाना में कांग्रेस और तेलगुदेशम का सफ़ाया होजाएगा। हरीश राओ ने बताया कि पदयात्रा के दौरान जहां कहीं भी किसानों से मुलाक़ात हुई तो उन के आँख में आँसू पाए गई। ख़ुशकसाली के बाइस फसलों को भारी नुक़्सान हुआ। उन्हों ने कहा कि गुज़श्ता 10 दिन में मीदक ज़िला में 15 किसानों ने ख़ुदकुशी करली।

मेदक ज़िला के 46 मंडलस ख़ुशकसाली से शदीद मुतास्सिर हैं। उन्हों ने हुकूमत से मांग की कि वो फ़ी एकड़ 10 हज़ार रुपय इमदाद का ऐलान करे और ख़ुदकुशी करने वाले किसानों के अफ़राद ख़ानदान को 4 लाख रुपय ऐक्स गरीशया अदा किया जाय। उन्हों ने कहा कि किसानों के नाम पर चंद्रा बाबू नायडू की पदयात्रा का तेलंगाना अवाम पर कोई असर नहीं होगा।

TOPPOPULARRECENT