Friday , December 15 2017

किसानों की ख़ुदकुशी को रोकने अनोखी मुहिम

गुलबर्गा 14 अगस्त:परेशान हाल किसानों में भरोसे की लहर पैदाकरने और उनको ख़ुदकुशी जैसे अहम इक़दाम से रोकने के लिए कर्नाटक में नई पहली की गई है।

सरकारी एजेंसीयों ने किसानों में एतेमाद पैदा करने उन तक पहुंचने के लिए बेशतर तरीक़े तलाश किए हैं। कोलार में ज़िला इंतेज़ामीया-ओ-महिकमा इत्तेलाआत-ओ-तालुकात-ए-आमा ने किसान तबक़ा में बेदारी मुहिम शुरू की है।

ये ज़िला ख़ुशकसाली से मुतास्सिर है।इस बेदारी मुहिम को बाद वक़्क़ा बे-साया नाम दिया गया है। इस मुहिम में स्टरीट प्ले गुलूकारी किसानों से तबादला-ए-ख़्याल और ज़रूरतमंद किसानों की माहिरीन नफ़सियात के ज़रीये कौंसलिंग की जाएगी।

डिप्टी कमिशनर पोलार के वी त्रिलोक चंद्र ने इस मुहिम का आग़ाज़ किया जो 20 अगस्त तक जारी रहेगी। इस मुहिम के दौरान तमाम 5 ताल्लुक़ाजात के तक़रीबन 100 मवाज़आत का अहाता किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT