Saturday , June 23 2018

किसानों के क़र्ज़ माफ़ कर दिए जाएं महाराष्ट्र असेम्बली में अपोज़ीशन कि मा‍ंग‌

मुंबई: महाराष्ट्र असेम्बली बजट बैठक कि शुरुआती दिन रियासत के कुछ‌ इलाक़ों में ख़ुशकसाली की संगीन सूरत-ए-हाल का मसला छाया रहा जबकि अपोज़ीशन अरकान ने नारे बुलंद करते हुए हुकूमत पर इस बोहरान से निमटने में नाकामी का इल्ज़ाम आइद किया।

रियासती गवर्नर विद्या सागर राव‌ जैसे ही असेम्बली और काउंसिल अरकान के मुशतर्का इजलास से ख़िताब के लिए विधान भवन पहुंचे , अपोज़ीशन कांग्रेस और एनसीपी अरकान अचानक नशिस्तों से उठ खड़े हो गए और किसानों के मुश्किलात नज़रअंदाज कर देने और डांस बार मालकीयन की सरपरसती करने पर हुकूमत को तन्क़ीद का निशाना बनाया।

रियासती गवर्नर अपने ख़िताब में बीजेपी की ज़ेरे क़ियादत हुकूमत ने मुख़्तलिफ़ तरक़्क़ीयाती इक़दामात का तज़किरा करने लगे तो अपोज़िशन अरकान ने रुकावट पैदा करने की कोशिश की और किसानों के मसाइल पर बात करने का इसरार किया और किसानों के क़र्ज़ माफ़ करो, का नारा बुलंद किया और किसानों को नज़रअंदाज कर देने का इल्ज़ाम आइद किया।

TOPPOPULARRECENT