कुलभूषण जादव के मामले में पाकिस्तान को नहीं जाना चाहिए था इंटरनेशनल कोर्ट- परवेज़ मुशर्रफ़

कुलभूषण जादव के मामले में पाकिस्तान को नहीं जाना चाहिए था इंटरनेशनल कोर्ट- परवेज़ मुशर्रफ़
Click for full image

इस्लामाबाद। कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान के पूर्व आर्मी चीफ परवेज मुशर्रफ ने विवादित बयान दिया है। खबर के मुताबिक, मुशर्रफ ने कहा कि कुलभूषण जाधव, अजमल कसाब से भी बड़ा आतंकी है। उनकी इस बात से ये साफ हो गया है कि वे मानते हैं कि अजमल कसाब एक आतंकवादी था।

उन्हाेंने कहा कि मुंबई हमलों में शामिल 10 आतंकियों में से कसाब महज एक प्यादा था। जबकि जाधव एक जासूस है, जो अपनी जासूसी गतिविधियों के कारण कई लोगों की मौत का कारण बना है।

2001 में पाकिस्तान के राष्ट्रपति रह चुके मुशर्रफ ने कहा कि देश को जाधव के मामले में इंटरनेशनल कोर्ट जाना ही नहीं चाहिए था, क्योंकि ये मुद्दा राष्ट्रीय सुरक्षा का है। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा से कोई खिलवाड़ नहीं किया जा सकता।

बता दें कि पाकिस्तान द्वारा कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाए जाने के बाद भारत ने अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था, जिसमें अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय ने पाकिस्तान द्वारा जाधव को फांसी देने के फैसले पर स्टे ऑर्डर दे दिया।

Top Stories