कुवैत में अब बाहरी लोगों को नहीं मिलेगी नौकरी, यह है वजह!

कुवैत में अब बाहरी लोगों को नहीं मिलेगी नौकरी, यह है वजह!
Click for full image

अन्य खाड़ी देशों (अमीरात और सऊदी अरब ) की तरह कुवैत में भी राष्ट्रीयकरण जारी है, यह राष्ट्रीयकरण खाड़ी देशों में रह रहे प्रवासियों की जगह देश के नागरिकों को नौकरी देना है।

अन्य खाड़ी देशों की तरह कुवैत में भी कई प्राइवेट क्षेत्र से प्रवासियों को अब तक निकाला जा चूका है और अभी कई अन्य ऐसे क्षेत्र हैं जहां से प्रवासियों को निकाले जाने की घोषणा की जा चुकी है और कुवैत में अब सरकारी क्षेत्रों से भी प्रवासियों को निकाला जाना शुरू कर दिया है।

कुवैतीकरण में सिविल सर्विस कमीशन ने सरकारी नौकरियों से 3600 नौकरियों पर प्रवासियों को हटाने की योजना बनायीं है।

अरब टाइम्स की खबरों के मुताबिक “आयोग जल्द ही इस साल नवंबर तक प्रवासियों के लिए अपनी सेवाओं को खत्म करने के फैसले पर सूचित करने के लिए प्रारंभिक कदम उठाने के लिए सभी सरकारी क्षेत्रों को संबोधित करेगा।

अरब टाइम्स की खबरों के मुताबिक “कुवैती सरकार कुवैतीकरण नीति को जारी रखेगा, जिसमे सरकारी क्षेत्र में डॉक्टर की नौकरी को छोड़कर सभी पदों पर कुवैत के नागरिकों को नौकरी दी जाएगी।

सूत्रों के मुताबिक इस वर्ष जुलाई तक कुल 2,690 नौकरियां प्रवासियों से छीन दी जाएगी और यह संख्या नवंबर के अंत तक बढ़कर 3,600 हो सकती है।

सूत्रों ने बताया कि आयोग इस संबंध में सरकारी निकायों को नये नौकरी के लिए एक सूची तैयार करने के लिए संबोधित करेगा जो नवंबर तक कुवैतीकरण नीति में शामिल किए जाएंगे। सूत्रों ने कहा है कि प्रवासी देशों की सेवाओं को समाप्त कर दिया जाएगा।

Top Stories