कुशवाहा का छलका दर्द, अपमान सहकर NDA में नहीं रह सकते

कुशवाहा का छलका दर्द, अपमान सहकर NDA में नहीं रह सकते

मुंगेर : केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने यहां शनिवार को कहा कि वह राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में हैं, लेकिन अपमान सहकर कहीं नहीं रह सकते।

मुंगेर के पोलो मैदान में आयोजित ‘हल्ला बोल-दरवाजा खोल’ कार्यक्रम में उन्होंने अगले लोकसभा चुनाव के लिए राजग में सीट बंटवारे को लेकर की जा रही बातों पर नाराजगी जताते हुए कहा कि रोलासपा अपमानित महसूस कर रही है।

उन्होंने कहा, “हम राजग में हैं और राजग में रहेंगे। लेकिन अपमान सहकर नहीं, बल्कि सम्मान के साथ।” कुशवाहा ने भाजपा और जद (यू) के कुछ नेताओं पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे लोग नहीं चाहते कि नरेंद्र मोदी फिर प्रधानमंत्री बनें।

पुराने दिनों की याद करते हुए उन्होंने कहा, “वर्ष 2014 में जब नरेंद्र मोदी का नाम प्रधानमंत्री उम्मीदवार के लिए सामने आया था, उस समय भाजपा के एक नेता भी नरेंद्र मोदी का नाम नहीं ले रहे थे। उस समय रालोसपा ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने की बात कही। मैं नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाना चाहता हूं।”

रालोसपा को कार्यकर्ताओं की पार्टी बताते हुए उन्होंने कहा कि 30 नवंबर को सीट बंटवारे को लेकर प्रधानमंत्री को हस्तक्षेप करना चाहिए।

उन्होंने चेतावनी के लहजे में कहा, “चार दिसंबर को वाल्मीकिनगर में कार्यकर्ताओं की बैठक आयोजित की गई है, जिसमें रालोसपा अपना निर्णय तय कर अपनी राह चलेगी।”

Top Stories