केंद्रीय सरकार रोहिंग्या मुसल‌मानों को भारत से निकाल बाहर करे: प्रवीण तोगड़िया

केंद्रीय सरकार रोहिंग्या मुसल‌मानों को भारत से निकाल बाहर करे: प्रवीण तोगड़िया
Click for full image

जम्मू: विश्वा हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने भारत में आए रोहिंग्या मुसल‌मानों को अवैध शरणार्थिया क़रार देते हुए कहा कि उनके अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सक्रिय आतंकवादी संगठनों उनके साथ संबंध हैं। उन्होंने केंद्रीय सरकार से कहा कि उन्हें अपने अवैध शरणार्थियों को भारत से निकाल बाहर करे।

वीएचपी लीडर ने इन बातों को व्यक्त शनिवार को यहां ‘हिंदू हेल्पलाइन की ऑल इंडिया मीटिंग से पहले संवाददाताओं से बात करते हुए किया। उन्होंने कहा ‘ये केंद्रीय और राज्य‌ सरकार की ज़िम्मेदारी है कि वो दूसरे मुल्कों के अवैध शरणार्थिया को पकड़ कर सरहद से बाहर करे।

मैं ये पूछना चाहता हूँ कि रोहिंग्या मुसल‌मानों जो अवैध शरणार्थिया हैं और जिनके अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठनों के साथ संबंध दुनिया में साबित हुए हैं, को अब तक पकड़ कर जम्मू से बंगला देश की सरहद पर क्यों नहीं भेजा गया, मुझे उस का जवाब चाहिए’ आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार जम्मू में जम्मू में म्यांमार और बांग्लादेश के आप्रवासियों की संख्या 13 हज़ार 400 है।

ये प्रवास जम्मू में पिछले एक साल से ज़्यादा समय तक जम्मू में रहे हैं। केंद्रीय सरकार की तरफ‌ से पिछले महीने सुप्रीमकोर्ट में एक याचिका दायर किया गया जिसमें रोहिंग्या मुसलमानो से देश‌ की सलामती के लिए गंभीर खतरा घोषित किया गया था। हालांकि नैशनल कान्फ़्रैंस के वरिष्ठ अध्यक्ष और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि 2014 से जम्मू-कश्मीर में यह खतरा बना दिया गया है।

Top Stories