Monday , January 22 2018

केंद्र ने राज्यो को डॉक्टरों के लिए सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया

बढ़ती सुरक्षा की मांग के चलते महाराष्ट्र में निवासी डॉक्टरों ने चौथे दिन भी अपनी हड़ताल जारी रखी । केंद्र ने आज राज्यों को डॉक्टरों के लिए सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सक्रिय उपाय लागू करने को कहा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ‘जे पी नड्डा’ ने डॉक्टरों से उनकी सेवाओं को फिर से शुरू करने की अपील करी।

“मैं डॉक्टरों से संबंधित सुरक्षा मुद्दों के बारे में चिंतित हूँ। मैं राज्य सरकारों को डॉक्टरों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सक्रिय उपाय करने का अनुरोध करता हूं और डॉक्टरों से आग्रह करता हूँ की वे लोगो को अपनी बेहतरीन सेवाएं प्रदान करना जारी रखें ताकि पीड़ितों को परेशानी न हो “, नड्डा ने ट्वीट किया।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ‘देवेंद्र फड़नवीस’ ने आज राज्य के निवासी डॉक्टरों से अपनी हड़ताल ख़तम करने का अनुरोध किया और उन्हें आश्वासन दिया कि सरकारी अस्पतालों में उनकी सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी ।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने भी डॉक्टरों को तुरंत काम शुरू करने का निर्देश दिया और कहा कि उनके मुद्दों और मांगों को राज्य सरकार के साथ सौहार्दपूर्वक हल किया जा सकता है।

राज्य भर में सरकारी अस्पतालों में मरीजों के रिश्तेदारों द्वारा डॉक्टरों पर हमलों की कई घटनाओ के बाद सोमवार से लगभग 4,000 निवासी डॉक्टर सुरक्षा में बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं।

इस हड़ताल के कारण, विभिन्न अस्पतालों में आउट- पेशंट डिपार्टमेंट (ओपीडी) की सेवाओं में रयकवत आ रही है ।

राष्ट्रीय राजधानी में ‘फेडरेशन ऑफ रेसिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (एफओडीएए)’ के अन्तर्गत आने वाले सरकारी अस्पतालों के 40,000 से अधिक निवासी डॉक्टरों ने कल कहा था कि वे महाराष्ट्र में उनके समकक्षों के द्वारा की जा रही हड़ताल का समर्थन करने के लिए आज सामूहिक छुट्टी पर जाएंगे।

TOPPOPULARRECENT