Wednesday , December 13 2017

केंद्र सरकार सीबीएसई की तर्ज पर आईटीआई स्टूडेंट्स के लिए भी बोर्ड बनाने की तैयारी में

नई दिल्ली : केंद्र सरकार सीबीएसई की तर्ज पर आईटीआई स्टूडेंट्स के लिए भी बोर्ड बनाने की तैयारी कर रही है। यह बोर्ड आईटीआई से ट्रेनिंग लेने वाले छात्रों की परीक्षा लेगा और पास होने वाले छात्रों को मैट्रिक के समतुल्य यानी बराबर होने का सर्टिफिकेट भी देगा। यह जानकारी केंद्रीय कौशल विकास मंत्री राजीव प्रताप रूडी ने बुधवार को लोकसभा में दी। उन्होंने बताया कि सरकार चाहती है कि अब जो भी आईटीआई सेंटर्स खुलें, वहां गुणवत्ता के साथ ट्रेनिंग दी जाए।

उन्होंने स्वीकार किया कि आईटीआई के नाम पर कई जगह स्थिति काफी खराब है। उन्होंने बिहार का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां जांच की गई तो पता चला कि एक ही कैंपस में दो आईटीआई चलाए जा रहे थे। उनमें से एक तो सिर्फ कागजों पर ही था, जबकि दूसरे इंस्टिट्यूट के छात्रों को ट्रेनिंग दी जा रही थी, लेकिन वहां भी बुनियादी ढांचा मजबूत नहीं था।

रूडी ने कहा कि सरकार जल्द ही सीबीएसई की तर्ज पर राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रशिक्षण परिषद के लिए बोर्ड बनाएगा। यह बोर्ड आईटीआई की परीक्षाओं में हिस्सा लेने वाले 23 लाख स्टूडेंट्स की परीक्षा लेकर उन्हें सर्टिफिकेट देगा। यह सर्टिफिकेट मैट्रिक के बराबर होगा, ताकि अगर स्टूडेंट चाहें तो इससे आगे भी अपनी पढ़ाई कर सकें।

TOPPOPULARRECENT