केजरीवाल की मौजूदगी में मुझसे हुई मारपीट : मुख्य सचिव

केजरीवाल की मौजूदगी में मुझसे हुई मारपीट : मुख्य सचिव

दिल्ली : दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने आम आदमी पार्टी पर बड़ा आरोप लगाया है. अंशु प्रकाश का आरोप है कि आम आदमी पार्टी के दो विधायकों ने उनसे बदसलूकी की है. अंशु प्रकाश ने आरोप लगाया है कि सोमवार देर शाम सीएम केजरीवाल के घर पर हुई एक मीटिंग के दौरान उनके साथ धक्का-मुक्की और बदतमीजी हुई.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आम आदमी पार्टी के ओखला से विधायक अमानतुल्लाह खान और उनके कुछ साथियों ने सोमवार रात अरविंद केजरीवाल के घर पर आईएएस अंशु प्रकाश से बदसलूकी की. आईएएस अंशु प्रकाश का आरोप है कि यह सब सीएम केजरीवाल के सामने ही हुआ.

आईएएस एसोसिएशन में गुस्सा, काम न करने की दी धमकी

वहीं इस घटना के बाद मुख्य सचिव ने आईएएस एसोसिएशन में इस बात की शिकायत की है. इस मामले को लेकर IAS असोसिएशन में गुस्सा है. आईएएस एसोसिएशन ने इस मुद्दे को लेकर आपात बैठक बुलाई है. आईएएस एसोसिएशन के डीएन सिंह ने कहा, “ हम हड़ताल पर जा रहे हैं, जब तक दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया जाएगे तब तक हम काम पर नहीं जाएंगे.”

आम आदमी पार्टी और सीएम ऑफिस ने मुख्य सचिव के आरोपों को खारिज किया है. आम आदमी पार्ट्री की तरफ से जारी बयान में कहा गया है,
पिछले महीने करीब ढाई लाख लोगों को आधार की वजह से राशन नहीं मिला. आम आदमी की मांग को लेकर विधायक बहुत दबाव में हैं. इसी को देखते हुए विधायकों और सीएम की मीटिंग बुलाई गई थी. इस मीटिंग में मुख्य सचिव ने जवाब देने से इंकार कर दिया. मुख्य सचिव ने कहा कि वो किसी भी विधायक या सीएम का जवाबदेह नहीं हैं. वो इन सभी सवालों का जवाब एलजी को देंगे. इसके बाद उन्होंने विधायकों के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया और वहां से चल दिए. और अब मुख्य सचिव इस तरह के बेतुके आरोप लगा रहे हैं.आम आदमी पार्टी ने कहा कि ये सब बीजेपी के इशारे पर हो रहा है. बीजेपी दिल्ली सरकार के काम के रोकने के लिए बहुत ही निचले स्तर पर आ गई है.

दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आम आदमी पार्टी और सीएम केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि अरविंद केजरीवाल और उनके गुंडे विधायक ने मुख्य सचिव के साथ बदसलूकी की है. ये बहुत ही शर्मनाक घटना है.दरअसल, 2017 में केंद्र सरकार ने अरविंद केजरीवाल सरकार से बिना सलाह लिए दिल्ली के मुख्य सचिव की नियुक्ति की थी. अंशु प्रकाश एजीएमयूटी (अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिज़ोरम एवं केंद्र शासित प्रदेश) कैडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) हैं. इससे पहले वो ग्रामीण विकास मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव एवं वित्तीय सलाहकार का पद संभाल रहे थे.

(क्विंट और बिटगिविंग ने मिलकर 8 महीने की रेप पीड़ित बच्ची के लिए एक क्राउडफंडिंग कैंपेन लॉन्च किया है. 28 जनवरी 2018 को बच्ची का रेप किया गया था. उसे हमने छुटकी नाम दिया है. जब घर में कोई नहीं था,तब 28 साल के चचेरे भाई ने ही छुटकी के साथ रेप किया. तीन सर्जरी के बाद छुटकी को एम्स से छुट्टी मिल गई है लेकिन उसे अभी और इलाज की जरूरत है ताकि वो पूरी तरह ठीक हो सके. छुटकी के माता-पिता की आमदनी काफी कम है, साथ ही उन्होंने काम पर जाना भी फिलहाल छोड़ रखा है ताकि उसकी देखभाल कर सकें. आप छुटकी के इलाज के खर्च और उसका आने वाला कल संवारने में मदद कर सकते हैं. आपकी छोटी मदद भी बड़ी समझिए. डोनेशन के लिए यहांक्लिक करें. )

Top Stories