Tuesday , September 25 2018

केजरीवाल के इल्ज़ामात की तहक़ीक़ात कि मांग‌

साबिक़ फ़ौजी सरबराह वि के सिंह ने आज कहा कि इंडिया अगेंस्ट करप्शन (आई ए सी) कारकुन अरविंद केजरीवाल ने करप्शन के ताल्लुक़ से जो इल्ज़ामात आइद किए हैं, उनकी मोस्सर तहक़ीक़ात होनी चाहीए।

साबिक़ फ़ौजी सरबराह वि के सिंह ने आज कहा कि इंडिया अगेंस्ट करप्शन (आई ए सी) कारकुन अरविंद केजरीवाल ने करप्शन के ताल्लुक़ से जो इल्ज़ामात आइद किए हैं, उनकी मोस्सर तहक़ीक़ात होनी चाहीए।

उन्होंने ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि केजरीवाल करप्शन के इल्ज़ामात इस लिए आइद कररहे हैं क्योंकि उनके पास उस की ताईद में सबूत भी पाए जाते हैं।

ताहम जनरल वि के सिंह ने आई ए सी का हिस्सा बनने से इनकार किया। उन्होंने कहा कि लोक नाविक जय‌ प्रकाश नारायण ने किसी पार्टी में शमूलीयत इख़तियार नहीं की।

उन्होंने तन्हा करप्शन के ख़िलाफ़ लड़ाई शुरू की और लोगों ने भरपूर साथ दिया। इस के नतीजे में 1974 में अवामी तहरीक शुरू हुई। जब उन से पूछा गया कि क्या वो किसी सियासी जमात में शमूलीयत से दिलचस्पी रखते हैं तो उन्होंने ये जवाब दिया।

साबिक़ फ़ौजी सरबराह ने कहा कि आइन्दा के लायेहा-ए-अमल का वो बाद में ऐलान करेंगे। ताहम करप्शन के ख़िलाफ़ किसी भी मुहिम को उन की ताईद हासिल रहेगी।

उन्होंने कहा कि उस वक़्त वो किसानों, नौजवानों और फ़ौजी जवानों में करप्शन के ख़िलाफ़ बेदारी मुहिम चला रहे हैं। क़ब्लअज़ीं उन्होंने बक्सर में वज़ीफ़ा याब फ़ौजीयों के वफ़द से मुलाक़ात की और उन से करप्शन के ख़िलाफ़ अवामी तहरीक में शामिल होने की अपील की।

TOPPOPULARRECENT