राजनाथ सिंह को जवानों ने ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ देने से किया इनकार

राजनाथ सिंह को जवानों ने ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ देने से किया इनकार
Click for full image

सम्मान के बदले अपमान, बड़े पद पर आसीन किसी भी व्यक्ति के साथ कोई छोटी घटना भी हो तो बड़ी बन जाती है| अगर वो घटना किसी केन्द्रीय मंत्री के साथ हो तो वो राष्ट्रीय रूप ले लेता है| ऐसा ही कुछ केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ राजस्थान के जोधपुर में हुआ| गृह मंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को राजस्थान के जोधपुर के दौरे पर गए थे

जहाँ पर उन्हें प्रोटोकॉल के तहत ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ मिलना था| जिन पुलिस वालों को वहां जाना था उन्होंने सामूहिक अवकाश का हवाला देकर ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ देने से मना कर दिया| ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ के लिए लगभग 250 जवानों को जाना था|

 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पुलिस जवानों ने सामूहिक अवकाश के लिए अर्जी दी थी लेकिन किसी कारणवश इस अवकाश को अफसरों ने देने से मना कर दिया| इस वजह से कई जगह पुलिसकर्मी गैरहाजिर हो गए। जिसमें सबसे ज़्यादा जोधपुर में था जहाँ केन्द्रीय मंत्री को ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ देना था| जहाँ करीब सैकड़ों पुलिसकर्मी एक दिन की सामूहिक छुट्टी पर चले गए|

 

रिपोर्ट के अनुसार पुलिसकर्मी केंद्र द्वारा वेतन कटौती के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। राजस्थान पुलिस का कहना है कि विभाग में कुछ दिनों से वेतन कटौती एवं अधिक भुगतान किए गए| जिस वजह से सोमवार को 250 से अधिक पुलिसकर्मी खुद ही एक दिन की छुट्टी पर चले गए। आनन-फानन में दूसरी टुकड़ी मंगवाई गई और ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ दिया गया।

 

शरीफ़ उल्लाह

Top Stories