Sunday , December 17 2017

केबिनेट में फेरबदल करने की तैयारी में मोदी सरकार

नई दिल्ली। कैबिनेट मंत्रियों के प्रदर्शन का आकलन करने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने मंत्रालयों से फाइलों को लेकर रिपोर्ट मांगी है। मंत्रालयों से फाइलों पर लगने वाला समय पूछा गया है। पीएमओ के इस पहल को सरकार में फेरबदल की तैयारी के रूप में देखा जा रहा है। माना जा रहा है कि राष्ट्रपति चुनाव के बाद यह फेरबदल हो सकता है।

पीएमओ ने मंत्रालयों से एक जून, 2014 से लेकर 31 मई, 2017 के बीच मिली फाइलों पर विस्तृत रिपोर्ट देने को कहा है। मोदी ने 26 मई, 2014 को सत्ता संभाली थी। पीएमओ ने मंत्रालयों से इसका विस्तृत विवरण देने को कहा है कि इस अवधि में कितनी फाइलों पर फैसला लिया गया और कितनी फाइलें लंबित हैं।

माना जा रहा है कि हाल में ही कैबिनेट की बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सिलसिले में दिशा-निर्देश दिए, जिसके बाद मंत्रालयों को फॉर्म भेजा गया।

फॉर्म 5 कॉलम में बंटे हैं। इसमें विभिन्न उपशीर्षक हैं- ओपनिंग बैलेंस, अवधि के दौरान मिली फाइलें, कुल फाइल, निस्तारण, अवधि के समाप्त होने पर लंबित फाइल और लंबित फाइलों का ब्रेकअप।

TOPPOPULARRECENT