Monday , July 16 2018

केरला में तीसरी सनफ़ के लिए अलाहदा जेल

तिरुअनन्तपुरम्: तीसरी सनफ़ के हुक़ूक़ और निजी ज़िन्दगी के तहफुज़‌ के लिए मुल्क गीर सतह पर पहली मर्तबा तरीशोर के हाई सिक्योरिटी जेल में उनके लिए एक अलाहदा ब्लॉक क़ायम किया जाएगा। सुप्रीमकोर्ट ने हाल ही में तीसरी सनफ़ (ज़नख़ारों) के हुक़ूक़ को तस्लीम किया था जिसके पेश-ए-नज़र हुकूमत केरला ने जेल में अलाहदा ब्लॉक क़ायम करने का फ़ैसला की है और उनके हुक़ूक़ के तहफ़्फ़ुज़ के लिए ट्रांसजेंडर बिल पेश करने की तैयारी में है।

जेल हुक्काम ने बताया कि वीरू सेंट्रल जेल से मुल्हिक़ 9 एकड़ अराज़ी पर एक नया क़ैदख़ाना तामीर किया जाएगा जिसमें तीसरी सनफ़ के अलाहदा ब्लॉक्स होंगे और ख़बरें जो कि अपने आपको तीसरी सनफ़ (ना मर्द ना औरत) क़रार देंगे उन्हें अलाहदा ब्लॉक में रखा जाएगा। फ़िलहाल उन्हें जेल के मर्दाना और ज़नाना ब्लॉक्स में मुक़िद किया गया है जहां पर उन्हें बाज़-औक़ात सनफ़ी इमतियाज़ात या जिन्सी हिरासानी का सामना है लेकिन अलाहदा ब्लॉक में मुंतकली के बाद ये मसला हल हो जाएगा और सी सीटी वी कैमरों के ज़रिया क़ैदीयों और स्टाफ़ पर निगरानी रखी जाएगी। फ़िलहाल केरला के जेलों में 20 ता 30 तीसरी सनफ़ के क़ैदी पाए जाते हैं।

TOPPOPULARRECENT