केरल में नई सरकार के नेतृत्व की समस्या मुख्यमंत्री पद के लिए सीपीएम के 2 दावेदार

केरल में नई सरकार के नेतृत्व की समस्या मुख्यमंत्री पद के लिए सीपीएम के 2 दावेदार
Click for full image

कोच्चि: केरल विधानसभा चुनाव में लेफ्ट एंड डेमोक्रेटिक फ्रंट की जीत के बाद सीपीएम‌ में अब यह चर्चा छिड़ गई है कि सरकार का नेतृत्व कौन करेगा। चुनाव प्रचार के दौरान एल डी एफ ने किसी भी नेता को मुख्यमंत्री के उम्मीदवार के रूप में पेश नहीं किया था और कहा था कि चुनाव के बाद यह फैसला किया जाएगा।

जबकि इस पद के लिए पार्टी में दो दावेदार वरिष्ठ नेता अछूतानंदन और पोलियट ब्यूरो सदस्य पी और जीन हैं जो जबरदस्त बहुमत से चुनाव में जीत हासिल की है। माकपा सूत्रों के मुताबिक एक यादव दिवस पार्टी नेतृत्व क जलास किया जाएगा जिसमें विधायक दल नेता का चुनाव अमल में आएगा। बाद में एल डी एफ सहयोगी बीएसपी, राकांपा और जेडीयू (एस) से सहमति प्राप्त किया जाएगा। हालांकि सीपीएम के लिए सबसे बड़ी समस्या यह है कि बाहरी उच्च पद के लिए उम्मीदवार का चयन कैसे किया जाए क्योंकि 93 वर्षीय अछूता नंदन और 71 वर्षीय वैजयंती अपनी लोकप्रियता की वजह इस पद के दावेदार हैं।

Top Stories