Sunday , July 22 2018

केरल में पत्रकारों पर वकीलों का हमला समस्या का हल‌ हाईकोर्ट के हस्तक्षेप

तिरुवनंतपुरम: वकीलों और पत्रकारों के बीच गतिरोध पर एक काफी बदलाव यह देखने में आया कि केरल हाईकोर्ट 2 न्यायाधीशों ने दोनों समूहों के प्रतिनिधियों से बातचीत की और यह फैसला किया कि विवाद की यकसूई एक मीडिया समन्वय समिति का गठन किया जाए। जिला सत्र न्यायाधीश के नेतृत्व समिति में पत्रकारों और ऐडवकेटस संगठनों के प्रतिनिधि और वकीलों के लिपिक शामिल रहेंगे।

बताया जाता है कि वकीलों के एक समूह ने कल जिला न्यायालय कांम्प्लेक्स‌ में तोड़फोड़ करते हुए पत्रकारों पर पत्थरों और शराब की खाली बोतलों से हमला कर दिया था कि अदालत में एक मामले की रिपोर्टिंग के लिए पहुंचे थे। इससे पहले केरल हाईकोर्ट में एक महिला के साथ सरकारी लीडर की बदतमीजी से संबंधित मामले की रिपोर्टिंग करने पर वकीलों ने आपत्ति जताई जिसके बाद पत्रकारों और वकीलों में ठन गई थी और उक्त हमले भी घटना क्रम बताया जाता है। इस बीच ऐडवकेटस के एक समूह ने कोच्चि में विरोध रैली निकालते हुए भड़काऊ नारे लगाए और कुछ समाचार पत्रों की प्रतियों को भी जमकर आगजनी जबकि राज्य के अधिकांश स्थानों पर वकीलों ने अदालतों का बहिष्कार किया।

TOPPOPULARRECENT