Saturday , December 16 2017

कैटेलोनिया को अलग देश बनाने की घोषणा टली, राष्ट्रपति ने की शांति की अपील

कैटेलोनिया के राष्ट्रपति कार्लस पुजिमोंट के संबोधन का बेसब्री से इंतज़ार किया जा रहा था, क्योंकि उम्मीद थी कि वो इसी संबोधन में संसद में कैटेलोनिया को स्वतंत्र देश बनाने की घोषणा कर देंगे. हालांकि इस संबोधन में पुजिमोंट ने स्थानीय संसद में कैटेलोनिया को स्वतंत्र देश बनाने की घोषणा नहीं की. राष्ट्रपति पुजिमोंट ने कहा कि वो आज़ाद कैटेलोनिया के पक्ष में मिले जनमत संग्रह का पालन करेंगे, लेकिन समस्या के समाधान के लिए पहले स्पेन से बातचीत की ज़रूरत है.

पुजिमोंट ने कहा, ”कैटेलोनिया ने स्वतंत्र देश बनने का अधिकार हासिल कर लिया है. मैं कैटलन नागरिकों के स्वतंत्र देश की चाहत के साथ रहूंगा.”कैटलन राष्ट्रपति कार्लस पुजिमोंट ने लोगों को लोकतंत्र का साथ देने और शांति की अपील की है. पुजिमोंट ने कहा कि कैटलोनिया को अलग देश बनाने के मसले पर तनाव को कम करने की ज़रूरत है. उन्होंने संवाद की ज़रूरत को भी रेखांकित किया.

स्थानीय संसद को संबोधित करते हुए पुजिमोंट ने कहा कि कैटेलोनिया अब कोई आंतरिक मुद्दा नहीं है बल्कि अब यह यूरोप का मुद्दा बन गया है. उन्होंने कहा कि किसी भी तरह का ख़तरा बनने या किसी को अपमानित करने की उनकी कोई योजना नहीं है.

पुजिमोंट ने कहा कि वो तनाव और गतिरोध को कम करना चाहते हैं. कैटेलोनिया की स्थानीय संसद को संबोधित करते हुए पुजिमोंट ने जनमत संग्रह के दौरान स्पैनिश सरकार की कार्रवाई की निंदा की. पुजिमोंट ने कहा कि सभी पक्षों के लोग तनाव को लेकर चिंतित हैं. कैटलन राष्ट्रपति ने संवाद और सहिष्णुता की अपील की.

पुजिमोंट ने स्पैनिश सरकार पर आक्रामक रवैया अपनाने और शक्तियों के केंद्रीकरण का आरोप लगाया.पुजिमोंट के इस संबोधन को लेकर पूरे कैटेलोनिया में काफ़ी सरगर्मी थी. अगर कैटेलोनिया को स्वतंत्र देश बनाने की घोषणा कर दी जाती तो हिंसक तनाव बढ़ने की आशंका थी.

TOPPOPULARRECENT