Wednesday , January 24 2018

कैथलिक पादरी की मौत में किसी साज़िश का इमकान मुस्तरद

पानाजी: फोरेंसिक रिपोर्ट में कैथलिक पादरी और कारकुन बसमारक की मौत की तौसीक़ करते हुए कहा गया है कि वो ग़र्क़ होने की वजह से हलाक हो गए। उनकी ग़ुर्क़ाबी के ख़िलाफ़ महिकमा सयाहत के बड़े प्रोजेक्टस के रूबरू एहतेजाजी मुज़ाहिरे किए गए थे।

कैथलिक पादरी उनके दिहात में पुरासरार हालात में गुज़िशता माह दरिया में हलाक दस्तियाब हुए थे। सुप्रिटेंडेंट‌ पुलिस ( जराइम) कार्तिक कशीफ़ ने कहा कि इस तरह उनकी क़तल की साज़िश की अफ़्वाहें ख़त्म होजाती हैं।

पोस्टमार्टम की दो मुख़्तलिफ़ रिपोर्टस में उनके जिस्म पर मौत से पहले कोई ज़ख़म आने की तरदीद की गई है। उनकी मौत किसी साज़िश का नतीजा नहीं बल्कि वो दरिया में ग़र्क़ होने की वजह से फ़ौत हुए थे।

सी एफ़ एस एल ने कहा था कि उसे कैथलिक पादरी की मौत पुरासरार हालत का नतीजा नहीं मालूम होती। उनकी नाश एक मुआविन दरिया सेंट स्टीवन जज़ीरा के पास तैरती हुई दस्तियाब हुई थी। क़ब्लअज़ीं ये दो दिन से घर से ग़ायब रहे थे।

TOPPOPULARRECENT