कैथोलिक चर्च के बिशप फ्रैंको पर एक और नन ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

कैथोलिक चर्च के बिशप फ्रैंको पर एक और नन ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

केरल की एक नन के यौन उत्पीड़न का मुकदमा झेल रहे जालंधर रोमन कैथोलिक चर्च के पूर्व प्रमुख बिशप फ्रैंको मुलक्कल पर केरल की ही एक और नन ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगा दिया है।

फ्रैंको मुलक्कल पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली दूसरी नन मुलक्कल पर चल रहे यौन उत्पीड़न के केस की 14वीं गवाह भी है। उसने पहली नन के उत्पीड़न मामले में जांच कर रहे विशेष जांच दल को दिए बयान में मुलक्कल पर आरोप लगाया है कि वह उसे वीडियो कॉल करता था और उनसे आपत्तिजनक बातें करता था।

नन के अनुसार, फ्रैंको मुलक्कल ने उसके साथ 2015 से 2017 के बीच यौन उत्पीड़न किया। दूसरी नन के अनुसार, मुलक्कल उससे केरल के एक कॉन्वेंट में भी मिला था, जहां उसके साथ दुर्व्यवहार किया गया था। हालांकि पुलिस ने इस मामले में कोई केस नहीं दर्ज किया है क्योंकि नन की ओर से इसकी कोई शिकायत नहीं की गई है।

बता दें कि पहले मामले में मुलक्कल को पुलिस ने 21 सितंबर, 2018 को गिरफ्तार किया था। हालांकि इसके बाद उसे 16 अक्तूबर 2018 को ही जमानत मिल गई थी। केरल पुलिस ने मामले में उसके खिलाफ 1400 पृष्ठों का आरोप-पत्र दायर किया था। चार्जशीट में 83 गवाहों के नाम थे।

इस केस के सामने आने के बाद फ्रैंको मुलक्कल को जालंधर में रोमन कैथोलिक चर्च के प्रमुख के पद से हटा दिया गया था। पहली नन के मामले में बिशप को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर पांच नन कोच्चि में भूख हड़ताल पर बैठी थी। हालांकि इस समय उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

Top Stories