कैम्ब्रिज एनालिटिका ने मतदाता दमन अभियान चलाया: व्हिसलब्लोअर

कैम्ब्रिज एनालिटिका ने मतदाता दमन अभियान चलाया: व्हिसलब्लोअर

वाशिंगटन: कैम्ब्रिज एनालिटिका के व्हिसलब्लोअर क्रिस्टोफर विली का कहना है कि कंपनी ने अमेरिका की आबादी के एक खास वर्ग को वोटिंग करने के लिए हतोत्साहित करने का अभियान चलाया।

सीएनएन के मुताबिक, कैम्ब्रिज एनालिटिका के कर्मचारी विली ने मतदाताओं को वोट से दूर करने के लिए शुरू किए गए प्रचार के बारे में पुख्ता साक्ष्य नहीं दिए।

विली ने ही एनालिटिका द्वारा फेसबुक यूजर्स के डेटा के दुरुपयोग का भंडाफोड़ किया था।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पूर्व शीर्ष राजनीतिक सलाहकार स्टीव बैनन का उल्लेख करते हुए विली ने बुधवार को सीनेट की न्यायिक समिति को बताया, “बैनन ने अमेरिकी राजनीति में चिरस्थाई बदलाव लाने के लिए सांस्कृतिक संघर्ष को माध्यम के तौर पर देखा।”

उन्होंने कहा, “इसी कारण से बैनन ने (कैंब्रिज एनालिटिका की मूल कंपनी) एससीएल को सूचनात्मक हथियारों का शस्त्रागार तैयार करने का ठेका दिया ताकि वह इनका इस्तेमाल अमेरिकी आबादी पर कर पाएं।”

सीनेटर क्रिस कून्स द्वारा यह पूछने पर कि क्या बैनन के उद्देश्यों में से एक मतदाताओं को मतदान करने के लिए हतोत्साहित करना था। इसके जवाब में विली ने कहा, “मेरी समझ के अनुसार हां, ऐसा ही है।”

विली ने कहा कि उन्होंने मतदाताओं को मतदान प्रक्रिया से दूर रखने की गतिविधियों में हिस्सा नहीं लिया था, लेकिन एनालिटिका कैम्ब्रिज की मतदाताओं को दूर रखने के हथकंडे में मुख्य निशाना अफ्रीकी मूल के अमेरिकी नागरिक थे।

Top Stories