Saturday , December 16 2017

कैराना पलायन: पांच साल में 188 परिवार शिक्षा, रोज़गार और अन्य कारणों से छोड़ा कैराना- यूपी सरकार की रिपोर्ट

कैराना से हुए कथित पलायन के मामले में शामली जिला प्रशासन की ओर से की गई जांच में सामने आया है कि करीब पांच साल पहले 188 परिवारों ने गांव छोड़ा था। ये परिवार उन 346 परिवारों की सूची में शामिल हैं, जिसे बीजेपी सांसद हुकुम सिंह ने जारी किया था।

गृह विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि बीजेपी सांसद हुकुम सिंह की ओर से मुहैया कराई गई 346 परिवारों की सूची में से यह पाया गया है कि 66 परिवारों ने 10 साल पहले कैराना छोड़ा था। उन्होंने कहा कि यह तथ्य भी सामने आया है कि 60 परिवार शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य और अन्य कारणों से दूसरे स्थानों पर रह रहे हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि उक्त सूची में शामिल परिवारों में से 28 अभी भी कैराना में रह रहे हैं। सात परिवारों के नाम सूची में दो बार लिखे गए हैं। इसके अलावा पांच लोग सरकारी सेवा में थे, जो रिटायर होने के बाद शहर से चले गए हैं।

हालांकि जांच में यह बात सामने आई है कि तीन मामलों में परिवारों को ‘रंगदारी’ की धमकियां मिली थीं। पुलिस ने उन मामलों में समय पर कार्रवाई की थी। रिपोर्ट के मुताबिक कुछ मामलों में मुसलमान परिवार भी कैराना छोड़ रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT