Tuesday , December 12 2017

कोई दलित ही बने अगला वजीरे आला : मांझी

वजीरे आला जीतन राम मांझी आज अपने ही अंदाज में थे। अवामी दरबार के बाद सहाफ़ियों से कहा कि मेरा मन है कि बिहार का अगला वजीरे आला कोई दलित ही बने। कोई दलित ही बेहतर ढंग से दलितों की भलाई के बारे में सोच सकता है। यह भी कहा कि नीतीश कुमार क

वजीरे आला जीतन राम मांझी आज अपने ही अंदाज में थे। अवामी दरबार के बाद सहाफ़ियों से कहा कि मेरा मन है कि बिहार का अगला वजीरे आला कोई दलित ही बने। कोई दलित ही बेहतर ढंग से दलितों की भलाई के बारे में सोच सकता है। यह भी कहा कि नीतीश कुमार को वजीरे आला बनाना मेरा फर्ज़ है। मांझी के वजीरे आला ओहदे पर बने रहने को लेकर उठते सवालों पर उन्होंने खुद कहा कि एसेम्बली सेशन शुरू होने से पहले एमएलए की बैठक में वजीरे आला का फैसला हो जाएगा। एमएलए की चाहत पर ही कोई वजीरे आला बना रह सकता है।

हाल में अफसरों के तबादले और मंसूबा वज़ीर पीके शाही और सड़क तामीर वज़ीर ललन सिंह के अदम इतमीनान पर भी वे बोले। कहा कि वज़ीरों से राय लेने के बाद ही तबादले किए गए हैं। किसी तासीब से तबादले नहीं किए गए। महकमा के काम में बेहतरी लाने के मक़सद से तबादले किए गए हैं। सड़क तामीर महकम में काम की रफ्तार से मुतमइन नहीं था इसलिए तबादला किया गया। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। इसके लिए बेवजह हंगामा करने की जरूरत नहीं है।

TOPPOPULARRECENT