Monday , December 18 2017

कोई भी मुझे ओहदा छोड़ने पर मजबूर नहीं कर सकता

पाकिस्तान के ढीट वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री ) यूसुफ़ रज़ागीलानी ने कहा है कि उन्हें कोई भी ग़ैर दस्तूरी तरीकों के ज़रीया ओहदा से हटने पर मजबूर नहीं कर सकता और वो सुप्रीम कोर्ट की जानिब से अपनी सज़ा-दही के पेश नज़र मुंसिफ़ाना ट्र

पाकिस्तान के ढीट वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री ) यूसुफ़ रज़ागीलानी ने कहा है कि उन्हें कोई भी ग़ैर दस्तूरी तरीकों के ज़रीया ओहदा से हटने पर मजबूर नहीं कर सकता और वो सुप्रीम कोर्ट की जानिब से अपनी सज़ा-दही के पेश नज़र मुंसिफ़ाना ट्रायल के लिए तमाम तर रास्ते खोज निकालेंगे ।

उन्हों ने सहाफ़ीयों को जो उन के सरकारी दौरा-ए-बर्तानिया पर उन के हमराह हैं बताया कि मैं इक़तिदार(हुकूमत) से चिमटे रहने के लिए मरा नहीं जा रहा हूँ , लेकिन में उसे (मुआमले को ) मंतक़ी अंजाम तक पहनचाउंगा ओर तमाम रास्तों से इस्तिफ़ादा करूंगा ।

वो फ़ाज़िल अदालत की जानिब से वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री ) की गुजिश्ता माह सज़ा-ए-दही के बारे में तफ़सीली हुक्मनामा की इजराई के बाद मुख़ातब थे ।

TOPPOPULARRECENT