Sunday , December 17 2017

कोडंकुलम प्लांट में बिजली की पैदावार दो महीने में: नारायण स्वामी

वज़ीर-ए-आज़म के दफ़्तर (पी एम ओ) में वज़ीर-ए-ममलकत वे नारायण स्वामी ने आज एतेमाद ज़ाहिर किया है कि कोडंकुलम न्यूक्लीयाई पावर प्लांट (के के एन पी पी) में बिजली की पैदावार आइन्दा दो महीनों में शुरू हो जाएगी। नई दिल्ली से कल रात यहां पहुंचन

वज़ीर-ए-आज़म के दफ़्तर (पी एम ओ) में वज़ीर-ए-ममलकत वे नारायण स्वामी ने आज एतेमाद ज़ाहिर किया है कि कोडंकुलम न्यूक्लीयाई पावर प्लांट (के के एन पी पी) में बिजली की पैदावार आइन्दा दो महीनों में शुरू हो जाएगी। नई दिल्ली से कल रात यहां पहुंचने के बाद सहाफ़ीयों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि तमिलनाडू हुकूमत ने इस प्रोजेक्ट को हरी झंडी दे दी है। एक एक हज़ार मेगावाट की दो यूनिटों में से एक एक यूनिट में आइन्दा दो महीनों में काम शुरू हो जाएगा।

इन्होंने मज़ीद कहा कि दूसरी यूनिट में पहली यूनिट के काम शुरू कर देने के दो महीने के अंदर बिजली की पैदावार शुरू हो जाएगी। वज़ीर-ए-आला जया ललीता की इस दरख़ास्त के बारे में जिस में इन्होंने कहा है कि कोडंकुलम से पैदा होने वाली दो हज़ार मेगावाट की पूरी की पूरी बिजली तमिलनाडू को दी जाए, मिस्टर नारायण स्वामी ने कहा कि वो वज़ीर-ए-आज़म डाक्टर मनमोहन सिंह के सामने ये मुआमला रखेंगे।

इन्होंने कहा कि मुहतरमा जया ललीता ने इस सिलसिले में वज़ीर-ए-आज़म को ख़त लिखा है और में भी वज़ीर-ए-आज़म से दरख़ास्त करूंगा कि वो तमिलनाडू की दरख़ास्त पर ग़ौर करें क्योंकि इस रियासत को बिजली की सख़्त क़िल्लत का सामना है।कावेरी और मुल्लापेरियार डैम से मुताल्लिक़ तनाज़ा के बारे में उन्होंने कहा कि ये रियास्ती मुआमले हैं।

TOPPOPULARRECENT