Tuesday , February 20 2018

कोलकता और दिल्ली के बीच‌ आज सबक़त की लड़ाई

लगातार‌ चार नाकामियों के बाद कोलकता नाईट रायडर्स आज‌ खेले जाने वाले मुक़ाबले में उसी की तरह जद्द-ओ-जहद में मसरूफ़ टीम दिल्ली डियर डेविल्स के ख़िलाफ़ कामयाबी के ज़रिया अपने मौक़ूफ़ को मजबूत‌ करने के लिए कोशिश‌ होगी।

लगातार‌ चार नाकामियों के बाद कोलकता नाईट रायडर्स आज‌ खेले जाने वाले मुक़ाबले में उसी की तरह जद्द-ओ-जहद में मसरूफ़ टीम दिल्ली डियर डेविल्स के ख़िलाफ़ कामयाबी के ज़रिया अपने मौक़ूफ़ को मजबूत‌ करने के लिए कोशिश‌ होगी।

गौतम गंभीर के ज़ेर-ए-क़ियादत कोलकता नाईट रायडर्स के लिए रवां सीज़न हालात मुश्किल तरीन हैं कि उसे यके बाद दीगरे चार मुक़ाबलों में नाकामी बर्दाश्त करनी पड़ी है जिसके असल ज़िम्मेदार इसके बैट्समेन हैं बैट्समेनों के मुज़ाहिरों में कमी है। कप्तान गौतम गंभीर लगातार‌ तीन मर्तबा बगैर कोई रन बनाए पवेलियन लौटने के बाद गुजिश्ता मुक़ाबले में राजिस्थान रॉयलस के ख़िलाफ़ 54 रन‌ की बेहतर इनिंगस‌ खेली लेकिन उनकी ये कोशिश रायगां गई।

जुनूबी अफ्रीका के ऑल राउंडर जैक कैलिस किसी क़दर रन‌ बनारहे हैं लेकिन उनके रन‌ बनाने की रफ़्तार टीम पर बोझ ही साबित होरही है जिसकी वजह से गुजिश्ता मुक़ाबले में उन्हें क़तई 11 खिलाड़ियों में शामिल नहीं किया गया। बैटिंग के इलावा बौलिंग शोबा में भी कोलकता के लिए मसाइल मौजूद हैं जिस की वजह से वो आफ़ स्पिनर सुनील नारायण पर हद से ज़्यादा इन्हिसार कररहे हैं।

आज‌ दिल्ली के ख़िलाफ़ खेले जाने वाले मुक़ाबले में के के आर के तीन अहम नाम बौलिंग कोच वसीम अकरम, हेड कोच ट्रेवर बॉयल्स और माईक हॉर्न किस तरह हिक्मत-ए-अमली इख़तियार करते हैं ताकि टीम को कामयाबी के सिम्त वापिस लाया जा सके। दिल्ली के लिए भी मसाइल कुछ कम नहीं , उसे घरेलू मैदानों पर कोलकता के इलावा सन राइज़र हैदराबाद और किंग्स इलेवन पंजाब के ख़िलाफ़ भी नाकामी बर्दाश्त करनी पड़ी है।

TOPPOPULARRECENT