Saturday , December 16 2017

कोलकता का आज पंजाब से मुक़ाबला , दिफ़ाई चम्पिय‌न को कामयाबी की ज़रूरत‌

मोहाली 26 अप्रैल : दिफ़ाई चम्पियन कोलकता नाईट राइडर्स का आज‌ यहां आई पी एल के छटे एडीशन में मेज़बान किंग्स इलेवन पंजाब से मुक़ाबला होगा।

मोहाली 26 अप्रैल : दिफ़ाई चम्पियन कोलकता नाईट राइडर्स का आज‌ यहां आई पी एल के छटे एडीशन में मेज़बान किंग्स इलेवन पंजाब से मुक़ाबला होगा।

दिफ़ाई चम्पियन के के आर को अपनी जीत को बरकरार रखने के लिए कामयाबी बहुत‌ ज़रूरी है। पंजाब जिसने चालू सीज़न बेहतरीन मुज़ाहिरों के ज़रिया हर किसी को हैरान किया है जैसा कि इस टीम ने स्टार खिलाड़ी मौजूद नहीं है जिसके बावजूद इस टीम ने जीत‌ हासिल की है।

पंजाब के लिए बैटिंग शोबा कमजोर‌ हैं लेकिन मनप्रीत गोनी , डेविड मिलर और डेविड हसी के मुज़ाहिरों में मजबूती मौजूद है जिस के बदौलत टीम ने कामयाबी हासिल की है। दूसरी जानिब के के आर अपनी जीत‌ बरक़रार रखने में नाकाम है।

इस टीम में मौजूद बड़े नाम बेहतर मुज़ाहरे करने में नाकाम हो रहे हैं। गौतम गमभीर के निगरानी में टीम को अभी तक‌ खेले गए 7 मुक़ाबलों में सिर्फ़ 2 जीत‌ हासिल हुई हैं। जिसकी वजह से चालू सीज़न इस टीम का आइन्दा मरहले में पहूंच पाना मुश्किल दिखाई दे रहे है।

आख़िरी मर्तबा जब कि दो टीमें मोहाली में आमने सामने हुईं थीं तब के के आर के स्ट्राइक बोलर सुनील नारायण ने हैट ट्रक लेते हुए पंजाब के बैटिंग शोबा को परेशान किया था लेकिन लोअर आर्डर में एम एस गोनी ने धीमी रफ़्तार बैटिंग का मुज़ाहरे करते हुए कोलकता की हार‌ में अहम रोल अदा किया था।

दिफ़ाई चम्पियन के के आर को गुजिश्ता रोज़ अपने घरेलू मैदान इडन गार्डन्स में मुंबई इंडियंस के ख़िलाफ़ खेले गए मुक़ाबले में 5 विकेट की हार‌ बर्दाश्त करनी पड़ी। हालाँकि इस मुक़ाबले में के के आर के मुस्तक़िल और स्टार बैट्समेनों ने किसी क़दर बेहतर मुज़ाहरे किये थे। लेकिन बोलरों में सुनील नारायण के सिवा किसी बोलर ने बेहतर मुज़ाहरे नहीं किये।

के के आर के लिए यूसुफ़ पठान और कप्तान गौतम गमभीर ने बेहतर शुरूआत‌ किया था। लेकिन ओपनर्स की ये जोड़ी शुरूआत‌ को बड़े स्कोर में तब्दील नहीं कर पाई। जैक कैलिस , मनोज तेवारी और ऑन मोरगन ने बेहतर मुज़ाहरे किये जबकि कैलिस अपना घुटना ज़ख़मी कर बैठे जिस की वजह से वो बौलिंग नहीं कर पाए थे।

के के आर के लिए सुनील नारायण ने 14 विकटें 7 मुक़ाबलों में हासिल करते हुए टूर्नामेंट में सब से ज़्यादा विकटें हासिल करने का एज़ाज़ हासिल कर लिया है और उनके मुज़ाहिरों में मजबूती की वजह से टीम को फ़ायदा हो रहा है। वेस्ट इंडीज़ से ताल्लुक़ रखने वाले इस बोलर सुनील को दीगर साथी बोलरों से बेहतर मदद‌ नहीं मिल रहा है जिस की वजह से के के आर को कामयाबी हासिल करने में मुश्किल हो रही है।

के के आर ने यूसुफ़ पठान को इनिंग्स के शुरूआत‌ की ज़िम्मेदारी भी दी। ताहम वो 7 इनिंग्स में सिर्फ़ एक मर्तबा सब से ज़्यादा 27 रन स्कोर किए हैं। पंजाब के ख़िलाफ़ आज‌ खेले जाने वाले मुक़ाबले में कैलिस और तेवारी की शिरकत बैर‌ यक़ीनी सूरत-ए-हाल का शिकार है। दूसरी जानिब पंजाब टीम के कप्तान एडम गिलक्रिस्ट के खराब‌ फ़ार्म के बावजूद टीम जीत‌ हासिल कर रही है और उस की जीत‌ में मनदीप सिंह , डेविड मिलर और डेविड हसी के मुज़ाहिरे अच्छे रोल अदा कर रहे हैं।

मुम्किन है कि आज‌ खेले जाने वाले मुक़ाबले में कप्तान एडम गिलक्रिस्ट अपने मुल्क के नौजवान बैट्समेन शान मार्श के लिए जगह ख़ाली करें जैसा कि उन्होंने उसका पहले ही इशारा दिया है। पंजाब ने अपने गुजिश्ता मुक़ाबले में दिल्ली डियर डेविल्स को 5 विकटों को मात‌ दी है।

पंजाब के लिए एम एस गोनी जिन्होंने सीज़न के पहले ही मुक़ाबले में के के आर के ख़िलाफ़ मैन आफ़ दी मैच का एज़ाज़ हासिल किया जबकि दिल्ली के ख़िलाफ़ हरमीत सिंह ने 24 रंस‌ के बदले 3 खिलाड़ियों को आउट किया जिस में वीरेंद्र सहवाग की विकेट भी शामिल है।

पंजाब के लिए सब से बड़ा मसला गिलक्रिस्ट का है जो कि बहैसियत कप्तान बेहतर मुज़ाहरे कर रहे हैं लेकिन बहैसियत बैट्समेन उनके मुज़ाहिरे इंतिहाई मायूस कुन है जैसा कि उन्होंने 7 इनिंग्स में सिर्फ़ 67 रन‌ स्कोर किए हैं।

TOPPOPULARRECENT