Monday , November 20 2017
Home / Crime / कोलकाता :एयरफोर्स अफसर की मौत के मामले में लुकआउट नोटिस जारी :

कोलकाता :एयरफोर्स अफसर की मौत के मामले में लुकआउट नोटिस जारी :

images(2)

कोलकाता : तृणमूल लीडर के बेटे की बेकाबू ऑडी कार तीन बैरिकेड्स को उड़ाते हुए रिपब्लिक डे के रिहर्सल परेड में जा घुसी थी। नतीजतन एयरफोर्स सेना की मौत हो गई। रेड रोड इलाके में बुधवार को ये हादसा हुआ था। यह एरिया सेना की पूर्वी कमान से हटा हुआ है और बेहद महफूज़ माना जाता है। कार का ड्राइवर मौके से फरार होने में कामयाब रहा। अभी यह भी पता नहीं चल पाया है कि कार कौन चला रहा था।

पुलिस के मुताबिक रिहर्सल परेड में सेना के तीन दस्ते एवं कोलकाता पुलिस का एक दस्ता भी शामिल था। एयरफोर्स की परेड को कार्पोरल अभिमन्यु गौड़ (21) रहबरी दे रहे थे। करीब 5.50 से 6.10 बजे के बीच दूसरी हुगली सेतु की तरफ से एक ऑडी कार रेड रोड की ओर मुड़ी।

लेकिन ट्रैफिक पुलिस कांस्टेबल ने कार को जाने से रोक दिया। इसके बाद कार को खिदिरपुर की ओर मोड़ दिया और तेज रफ्तार में रेड रोड की ओर बढ़ता चला गया। इस दौरान खिदिरपुर रोड, रेड रोड तथा जेके आईलैंड के पास लगाए गए तीन बैरिकेड्स को तोड़ दिया। इसके बाद बेकाबू कार ने एयरफोर्स अफसर अभिमन्यु गौड़ को जोरदार टक्कर मार दी। जिससे वह सदीद जख्मी हो गये। उन्हें फौरन अलीपुर स्थित सेना के पूर्व कमान हॉस्पिटल में पहुंचाया गया, जहां डाक्टरों ने उन्हें मरा हुआ करार दिया।

अभिमन्यु गुजरात में सूरत के रहने वाले थे। उनकी पहली ही पोस्टिंग पश्चिम मेदिनीपुर स्थित कलाईकुंडा एयर बेस पर हुई थी और परेड अभ्यास के लिए कोलकाता आए थे।

टक्कर के बाद कार को घुमाकर भागने लगा। लेकिन एयर बैग खुल गया। नतीजा कार फोर्ट विलियम गेट के पास अपने आप रुक गई। इसके बाद कार को छोड़कर फरार हो गया। जाते वक्त अपनी पहचान को छुपाने के लिए कार पर लगे नंबर प्लेट को भी नोंच कर ले गया। मैदान थाना पुलिस ने कार को कब्जे में ले लिया।

सफेद रंग की चमचमाती नई ऑडी कार कार 4 जनवरी को ही खरीदी गई थी। इसीलिए परमानेंट नंबर भी नहीं मिला था। चेसिज व ईजन नंबर से पता चला कि ए. जें. सी बोस रोड ऑडी के शोरूम से खरीद गई थी। हादसे के वक्त कार की रफ्तार तकरीबन 80-100 किमी पर आरोप बताई गई है।

पुलिस की जांच में पता चला कि कार बड़ाबाजार इलाके के साबिक एमएलए और मौजूदा तृणमूल लीडर मोहम्मद शोहराब के बेटे अंबिया शोहराब, मुस्सदी बिजनेस प्राइवेट लिमिटेड, बर्मन स्ट्रीट के नाम पर दर्ज है। शोहराब के दो बेटे हैं अंबिया व संबिया शोहराब है। कार कौन चला रहा था इसका पता नहीं चल सका है। लेकिन पुलिस ने जब शोहराब के घर व दफ्तर पर छापेमारी की तो वहां कोई नहीं मिला।

पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए जोड़ासांकू स्थित उसके घर पर व बर्मन स्ट्रीट में दफ्तर पर नजर रखे हुए है। शोहराब का फल का कारोबार है।हादसे के बाद से शोहराब परिवार के साथ फरार है। साल 2006 में वाममोर्चा के साथ मिलकर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के टिकट पर मोहम्मद शोहराब बड़ाबाजार से इलेक्शन जीता था, मगर 2011 में हार गया। इसके बाद वह तृणमूल में शामिल हो गया।

सीएम ममता बनर्जी ने दिया कत्ल का मामला दर्ज करने का हुक्म

हादसे को बदकिस्मती करार देते हुए सीएम ममता बनर्जी ने पुलिस को कत्ल का मामला दर्ज करने का हुक्म दिया है। खबर मिलते ही एयरफोर्स अफसर को कमांड अस्पताल देखने पहुंची सीएम ने उनकी मौत पर गहरा दुख जताया किया। कहा कि यह जुर्म माफी लायक नहीं है। लापरवाही से गाड़ी चलाने वाले किसी भी कीमत पर बख्शे नहीं जाएंगे। उन्होंने कोलकाता पुलिस कमिश्नर सुरजीत पुरकायस्थ को आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के हुक्म दिए।

TOPPOPULARRECENT