Saturday , July 21 2018

कोलकाता में जाधवपुर युनिवर्सिटी के छात्रों ने तोड़ी श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मुर्ति

मूर्ती तोड़ने का सिलसिला त्रिपुरा के बाद अब कोलकाता में भी शुरू हो गया है। आज सुबह कोलकाता के टौलीगंज में श्यामा प्रसाद मुखर्जी की एक प्रतिमा तोड़ दी गई। घटना टौलीगंज के वदातला इलाके की है जहां जाधवपुर यूनविर्सिटी के कुछ छात्र पहुंचे और पहले मूर्ति तोड़ी फिर उस पर कालिक पोत दी।

स्थानीय लोगों के मुताबिक जाधवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों ने इस घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने इस मामले में फिलहाल 6 लोगों को हिरासत में लिया है।

बता दें कि त्रिपुरा में रूसी क्रांति के नायक रहे व्लादिमिर लेनिन की मूर्ति गिराए जाने के बाद तमिलनाडु के वेल्लोर में समाज सुधारक ईवीआर रामास्वामी ‘पेरियार’ की मूति को नुकसान पहुंचाया गया है।

यह घटना भाजपा के एक सीनियर नेता के विवादित सोशल मीडिया पोस्ट के कुछ घंटे बाद हुई है। त्रिपुरा में लेनिन की मूर्ति गिराए जाने के बाद भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच राजा ने बयान दिया था कि ‘त्रिपुरा में लेनिन के बाद अब तमिलनाडु में पेरियार की बारी है।

पेरियार की प्रतिमा तिरूपत्तुर निगम कार्यालय के अंदर लगी है, जिसे रात करीब 9 बजे निशाना बनाया गया। पेरियार की मूर्ति के चश्मे और नाक को नुकसान पहुंचाया गया है।

मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें एक भाजपा का सदस्य है जबकि दूसरा सीपीआई कार्यकर्ता है।

वहीं लेनिन की मूर्ति गिराए जाने की घटना के बाद त्रिपुरा समेत पूरे देश में लेफ्ट समर्थकों में नाराजगी देखी जा रही है। कोलकाता में लेफ्ट नेताओं ने लेनिन की मूर्ति तोड़ने के खिलाफ प्रदर्शन किया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

इसी बीच लेफ्ट और भाजपा नेताओं के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी त्रिपुरा में हो रही हिंसा पर प्रतिक्रिया दी है।

TOPPOPULARRECENT