कोविड ने महिला क्रिकेट को ज्यादा प्रभावित नहीं किया : मंधाना

कोविड ने महिला क्रिकेट को ज्यादा प्रभावित नहीं किया : मंधाना

कोविड ने महिला क्रिकेट को ज्यादा प्रभावित नहीं किया : मंधाना 1नई दिल्ली, 10 सितंबर । भारत की स्टार महिला बल्लेबाज स्मृति मंधाना का मानना है कि इस समय जारी कोविड महामारी ने महिला क्रिकेट पर उतना प्रभाव नहीं डाला है, जितना पुरुष क्रिकेट पर डाला है।

महिला क्रिकेट में आखिरी मुकाबला भारत और आस्ट्रेलिया के बीच टी-20 विश्व कप के फाइनल मैच के तौर पर मेलबर्न क्रिकेट स्टेडियम में खेला गया था। तब से महिला क्रिकेट रुका हुआ है। भारत का इंग्लैंड दौरा, आस्ट्रेलिया का दक्षिण अफ्रीका दौरा, दक्षिण अफ्रीका का इंग्लैंड दौरा कोविड के कारण ही रद्द कर दिया गया था।

अब हालांकि 21 सितंबर से इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच शुरू हो रही पांच मैचों की टी-20 सीरीज से महिला क्रिकेट की वापसी हो रही है।

मंधाना ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा, मैं यह नहीं कह सकती कि कोविड-19 ने महिला क्रिकेट को ज्यादा प्रभावित किया है। आस्ट्रेलिया में खेले गए टी-20 विश्व कप के बाद से महिला क्रिकेट को अच्छी पहचान मिली थी।

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि महिला क्रिकेट विश्व कप के बाद होती तो यह खेल के लिए अच्छा होता। अब हमें दोबारा शुरू करना होगा और लय हासिल करनी होगी।

बाएं हाथ की इस बल्लेबाज ने बताया कि भारतीय खिलाड़ियों ने लॉकडाउन में ही ट्रेनिंग शुरू कर दी थी और अपने घरों में फिटनेस ट्रेनिंग कार्यक्रम पर काम कर रही हैं।

मंधाना ने कहा, यह सही बात है कि महिला विश्व कप के फाइनल के बाद से हमने किसी तरह की क्रिकेट नहीं खेली है, लेकिन हम सभी ने लॉकडाउन में ही ट्रेनिंग करना शुरू कर दी थी। हम में से हर कोई घर में फिटनेस पर काम कर रही हैं।

उन्होंने कहा, लेकिन मैच प्रैक्टिस सेशन ऐसी चीज है जो काफी अलग है, इसलिए बाद में इसे देखते हैं।

इसी महामारी के कारण 2021 में न्यूजीलैंड में होना वाला महिला विश्व कप 2022 तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। मंधाना ने कहा है कि टीम टूर्नामेंट की अच्छी तैयारी कर रही है और अब उन्हें एक साल का अतिरिक्त समय मिलेगा जिसके कारण वह विश्व कप की ट्रॉफी उठाने के लक्ष्य को लेकर काम करेंगे।

उन्होंने कहा, अगर यह स्थगित नहीं होता तो हम पिछले साल से विश्व कप की तैयारी कर रहे थे। लेकिन हां, अब हमें विश्व कप की तैयारी के लिए एक साल और मिल गया है। इसलिए अब चीजें और बेहतर तरीके से होंगी।

24 साल की मंधाना टी-20 विश्व कप में टीम की उप-कप्तान थी। उन्होंने कहा कि कप्तानी ऐसी चीज है जो कभी उनके दिमाग में नहीं हैं।

उन्होंने कहा, मेरे लिए अभी इस समय लक्ष्य अपनी टीम और देश के लिए मैच जीतना है और कुछ नहीं। कप्तानी ऐसी चीज है जो जब आनी होती है तो अपने आप आती है। मैंने निजी तौर पर अभी तक इसके बारे में नहीं सोचा है।

Disclaimer: This story is auto-generated from IANS service.

Top Stories