क्या ग्रुप-A वालों को कोरोनावायरस का खतरा सबसे ज्यादा है ?

क्या ग्रुप-A वालों को कोरोनावायरस का खतरा सबसे ज्यादा है ?

हेल्थ डेस्क. चीन में हुई हालिया शोध के मुताबिक, कोरोनावायरस से संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा ब्लड ग्रुप-A वालों को है। कोरोनावायरस के गढ़ वुहान और शेंजान में 2 हजार से अधिक मरीजों पर हुई रिसर्च में यह बात सामने आई है। रिसर्च में कोरोना से पीड़ित मरीजों के ब्लड ग्रुप का अध्ययन किया गया।

A-ब्लड ग्रुप वालों को अधिक सावधानी बरतने की सलाह

चीनी शोधकर्ताओं के मुताबिक, वुहान में भर्ती कोरोना के ऐसे मरीज जिनका ब्लड ग्रुप-A था उनमें संक्रमण के लक्षण अधिक गंभीर थे। वहीं, O-ब्लड ग्रुप वालों में लक्षण काफी माइल्ड थेI वुहान युनिवर्सिटी के शोधकर्ता वैंग शिंघुआन के मुताबिक, ब्लड ग्रुप-A वालों को संक्रमण से बचने के लिए अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है।

O-ब्लड ग्रुप वालों को अधिक निश्चिंत होने की जरूरत नहीं

शोधकर्ताओं के मुताबिक, चीन में कोरोना से मरने वाले 206 मरीजों में से 85 लोगों का ब्लड ग्रुप-A और 52 का ब्लड ग्रुप-O था। शोधकर्ता गाओ यिंगडई कहते हैं, अगर आपका ब्लड ग्रुप-A है तो घबराने की जरूरत नहीं, इसका मतलब ये कतई नहीं है कि 100 प्रतिशत आपको संक्रमण होगा। और न ही O-ब्लड ग्रुप वालों को निश्चिंत होने की जरूरत है। बचाव के लिए बार-बार धोते रहें और जरूरी गाइडलाइन का पालन करें।

वुहान में सबसे ज्यादा O-ब्लड ग्रुप वाले

रिसर्च रिपोर्ट के मुताबिक, चीन में वुहान में सबसे ज्यादा O-ब्लड ग्रुप वाले लोग हैं। यहां 31 फीसदी लोगों का ब्लड ग्रुप-A, 24 फीसदी का ब्लड ग्रुप-B, 9 फीसदी का ब्लड ग्रुप AB और 34 फीसदी लोगों का ब्लड ग्रुप-O है।

Top Stories