Thursday , July 19 2018

क्या बारा का छोकरा अतुल राय बन पाएगा ज़मानियां का विजेता?

शम्स तबरेज़, सियासत न्यूज़ ब्यूरो
बारा(ग़ाज़ीपुर): बारा गांव का मुसलमान सबसे ज़्यादा विकास के मामलें को लेकर इस बार गुस्से में है। विकास के तमाम दावे सड़क के आगे पानी भरते नज़र आ रहे हैं। यहां पर समाजवादियों की कोई कमी नहीं, लेकिन इस बार लगता है कि बीरपुर के अतुल राय को बारा गांव ने गोद लिया है। गंगा किनारे वाला बारा का ये छोरा बारा गांव वालों के मन में पैठ बना चुका है। 8 मार्च को इस इलाके में मतदान है, अब देखना होगा कि समाजवाद की साईकल बारा की टूटी सड़कों पर चल पाएगी या नहीं अथवा हाथी की सवारी करके बारा का छोकरा अतुल राय बनेगा ज़मानिया विधानसभा क्षेत्र का विजेता।

क्या बारा का छोकरा अतुल राय बन सकेगा ज़मानिया का विजेता?

क्या बारा का छोकरा अतुल राय बन सकेगा ज़मानिया का विजेता?शम्स तबरेज़, सियासत न्यूज़ ब्यूरोबारा(ग़ाज़ीपुर): बारा गांव का मुसलमान सबसे ज़्यादा विकास के मामलें को लेकर इस बार गुस्से में है। विकास के तमाम दावे सड़क के आगे पानी भरते नज़र आ रहे हैं।

Posted by The Siasat Daily – Hindi on Wednesday, 22 February 2017

TOPPOPULARRECENT