क्या यूपी में मुस्लिम वोटर्स एकजुट नहीं दिखें?

क्या यूपी में मुस्लिम वोटर्स एकजुट नहीं दिखें?

पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में मुस्लिम वोटों में सपा-बसपा गठबंधन और कांग्रेस के बीच बंटवारा हो गया है। आईएएनएस को दिए साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव प्रचार के दौरान बहस के मुद्दे को बदल रहे हैं, क्योंकि वह जानते हैं कि ‘हार रहे हैं और हताश हैं।’

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद से चुनाव लड़ रहे खुर्शीद ने कहा कि मुस्लिम समुदाय ने इस फैले हुए राज्य में रणनीति बनाकर वोट नहीं डाला है, जैसा कि इसने 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में किया था और कई जगहों पर वोट बंटे हुए हैं।

उन्होंने कहा, “मुस्लिम वोट बिखरे हुए हैं। कई जगहों पर यह कांग्रेस को मिला है। कुछ जगहों पर यह गठबंधन और कांग्रेस के बीच बंट गया है। कुछ जगहों पर यह मजबूती के साथ गठबंधन को मिला है।

लेकिन मुस्लिमों ने उस तरह से वोट नहीं किया है जैसा उन्होंने पिछली बार बिहार में किया था। बिहार में रणनीति बनाकर वोट दिया गया था, वहां खंडित वोट नहीं दिए गए थे।”

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार, कांग्रेस नेता ने कहा कि अल्पसंख्यकों को वोट बंटना एक दुखद मामला है। उन्होंने कहा, “मुस्लिम मतदाता कई जगहों पर असमंजस की स्थिति में हैं, जो एक खराब बात है, क्योंकि यह संसदीय चुनाव है और उनका भविष्य पूरी तरह से कांग्रेस या राष्ट्रीय पार्टी के साथ है।

उनका वोट बंटना एक अच्छा विचार नहीं है, लेकिन आप मतदाताओं पर आरोप नहीं लगा सकते। मतदाता अपने स्थानीय मुद्दे और अन्य चीजों को लेकर चिंतित हैं।”

Top Stories