खशोगी केस: सऊदी कांसुलेट की कार में मिले कपड़े, हत्या में फंसे अधिकारियों के वीजा रद्द

खशोगी केस: सऊदी कांसुलेट की कार में मिले कपड़े, हत्या में फंसे अधिकारियों के वीजा रद्द
Click for full image

पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के मामले में तुर्की मीडिया का कहना है कि जांचकर्ताओं को सऊदी वाणिज्य दूतावास की एक कार के अंदर से तीन सूटकेट मिले हैं, जिसमें एक लैपटॉप और कपड़े रखे हुए थे। अमेरिकी राष्ट्रपति “डॉनल्ड ट्रंप ने पत्रकार की मौत के मामले में सऊदी अभियान की आलोचना भी की है। यही नहीं, खशोगी की हत्या में फंसे सऊदी के कुछ अधिकारियों के वीजा को अमेरिका ने रद्द कर दिया है।

न्यूज चैनल में बताया गया कि मंगलवार को तुर्की क्राइम सीन इन्वेस्टिगेटर्स ने सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के सुराग तलाशने के मकसद से वाहन की तलाशी ली। अधिकारियों ने सोमवार को एक कार का पता लगाया, जो कि भूमिगत गैराज में खड़ी थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पार्किंग में खड़ी कार का तलाशी अभियान फिलहाल रोक दिया गया है, अब यह कार्रवाई बुधवार सुबह की जाएगी।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने की अभियान की आलोचना
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने जमाल खशोगी की हत्या के मामले में सऊदी द्वारा चलाए गए अभियान की आलोचना की। उन्होंने कहा कि हकीकत छिपाने के इतिहास में यह सबसे बुरा प्रयास है।

सीसीटीवी फुटेज में हुआ यह खुलासा
बता दें कि तुर्की मीडिया ने आशंका जताई है कि 2 अक्टूबर को सऊदी एजेंट्स द्वारा खशोगी की हत्या के बाद उनके शव के कई टुकड़े कर दिए गए हैं। इस्तांबुल में सऊदी अरब के वाणिज्यिक दूतावास में एक जानेमाने पत्रकार की हत्या को लेकर सनसनीखेज जानकारी सामने आई। उस दिन का एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जिससे हत्या के बाद भ्रम पैदा करने के लिए अपनाए गए तरीकों का पता चलता है। तारीख थी 2 अक्टूबर 2018, सुबह के 11.03 बजे शर्ट और जींस पहने एक शख्स अपने कुछ साथियों के साथ दूतावास में दाखिल होता है। 2 घंटे के बाद दोपहर 1.14 मिनट पर पत्रकार जमाल खशोगी कांसुलेट में प्रवेश करते हैं और कुछ ही मिनटों में दूतावास के भीतर खूनी खेल खेला जाता है।

भ्रम में डालने के लिए बॉडी डबल का किया था इंतजाम
सीसीटीवी फुटेज से साफ पता चला है कि सऊदी अरब के हत्यारे एजेंटों ने भ्रम की स्थिति पैदा करने के लिए खशोगी के एक बॉडी डबल का इंतजाम किया था। हत्या के बाद उसे खशोगी के कपड़े पहना दिए गए जिससे लगे कि पत्रकार दूतावास से चले गए थे। कुछ समय तक इस हत्या को कवर-अप किया गया पर एक जूते ने पोल खोल दी। तुर्की की ओर से जारी वीडियो में खशोगी जैसे शख्स को उनकी हत्या के तुरंत बाद इंस्ताबुल की सड़कों पर घूमते देखा जा सकता है। कुछ ही देर बाद उसने खशोगी के कपड़े भी उतार दिए थे।

दो अक्टूबर के बाद से नहीं देखे गए थे खशोगी
गौरतलब है कि खशोगी दो अक्टूबर को वाणिज्य दूतावास में घुसने के बाद से नहीं देखे गए थे। तुर्की के अधिकारियों ने दावा किया था कि 15 सऊदी एजेंटों ने खशोगी की वाणिज्य दूतावास में हत्या कर दी और उनके शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर डाले। जमाल खशोगी सऊदी अरब के रहने वाले थे और वाशिंगटन पोस्ट में लेख लिखते थे। खशोगी को आखिरी बार सऊदी अरब के इस्तांबुल स्थित वाणिज्य दूतावास में प्रवेश करते हुए 2 अक्टूबर को देखा गया था। शुरुआत से ही तुर्की के अधिकारी दावा करते रहे हैं कि खशोगी की हत्या कर दी गई। इस मामले में अमेरिका ने भी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने पत्रकार जमाल खशोगी के रहस्यमय परिस्थितियों में लापता होने के संबंध में पूरी रिपोर्ट मांगी थी।

Top Stories