Wednesday , December 13 2017

ख़त्ताती के नमूने लाजवाब , फ़नकारों ने हैदराबाद का नाम रोशन कर दिया

सालारजंग म्यूज़ीयम में सियासत आर्ट गैलरी का मुशाहिदा , मुख़्तलिफ़ शख्सियतों के तास्सुरात

सालारजंग म्यूज़ीयम में सियासत आर्ट गैलरी का मुशाहिदा , मुख़्तलिफ़ शख्सियतों के तास्सुरात
ख़त्ताती के इन नमूनों को देखने की सआदत मिली बहुत बहतरीन-ओ-लाजवाब हैं । हैदराबाद के ख़त्तात अपने इस फ़न के ज़रीये शहर का नाम दुनिया भर में रोशन कर रहे हैं । साथ ही साथ अरबी फ़ारसी और उर्दू रस्म उलख़त के हुस्न को बरक़रार रखने में मुआविन साबित होरहे हैं ।

उन तास्सुरात को जनाब रहमान जामी ने सियासत आर्ट गैलरी के ज़ेरे एहतेमाम सालार जंग म्यूज़ीयम में मुनाक़िदा नुमाइश के मुशाहिदे के बाद क़लमबंद किया जो एक‌ सितंबर तक जारी रहेगी और नाज़रीन की कसीर तादाद के सबब जुमा की हफ़तावारी छुट्टी के बावजूद जुमा को भी खुली रहेगी । सय्यद महमूद हुसैनी क़ाज़ी पूरा रक़मतराज़ हैं कि तमाम ख़त्तात हज़रात अपनी जुस्तजू मेहनत काविशों से इस फ़न को चार चांद लगाए अल्लाह उन अस्हाब को अज्र अज़ीम अता करे ।

कल‌ नुमाइश में तलबा तालिबात की कसीर तादाद शरीक रही जिस में मेस्कू ग्रेड स्कूल , बुस्टन मिशन स्कूल के तलबा ने नुमाइश का मुशाहिदा किया । मुहतरमा शमीम बानो ने कहा हैं कि इस नुमाइश का बार बार एहतेमाम किया जाना चाहीए । ये नुमाइश सूदमंद है । मुहम्मद सुलेमान अली ने कहा हैं कि में महव हैरत हूँ कि क़लम का कमाल उरूज पर है । असमा-ए आक़ाए नामदार और असमा-ए हसनी बहुत ही उम्दगी के साथ तहरीर हैं ।

मुहम्मद अब्दुलवाहिद मुशीर आबाद ने कहा हैं कि ख़त्ताती की प्यास मुझे यहां खींच कर लाई है । अल्हम्दुलिल्ला दिली मुसर्रत-ओ-तस्कीन हुई । नियम अलख़तात के नुस्खे़ देख कर मुसर्रत हुई । जनाब ज़ाहिद अली ख़ां साहब की मसाई जमीला को खिराज पेश करता हूँ । नुमाइश में जो ख़त्ताती के नमूने रखे गए हैं वो फ़न ख़त्ताती के शाहकार नमूने हैं बिलख़सूस जनाब नियम साबरी का अंदाज़ रंगीन किताबत , जनाब फहीम के नमूने तग्रा , जनाब रफ़ी अलुद्दीन के तहरीरात माशा अल्लाह मुख़्तलिफ़ अंदाज़ में जनाब मुहम्मद अबदूल्लतीफ़ की सूरे रहमान पर ऑयल पेंटिगज़ , जनाब नसीर सुलतान की कशीदा कारी कारचोबी-ओ-कामदानी काम से मुरस्सा ख़त्ताती के नमूने जनाब मुहम्मद ज़मीर अलुद्दीन निज़ामी की क्लासीकल ख़त्ताती , जनाब मुहम्मद अबदुलग़फ़्फ़ार के मुख़्तलिफ़ तर्ज़ हाय ख़त्ताती जनाब अबदुलक़ादिर , जनाब रज़ी अलुद्दीन इक़बाल , हाफ़िज़ अमीर इस्लाम और हाफ़िज़ अबदुलसत्तार के ख़त्ताती के नमूने नुमाइश में मौजूद हैं ।

मीर अब्बास अली लाइब्रेरी अस्सिटैंट ने अवाम से इस्तिफ़ादा की ख़ाहिश की है । और कहा है कि नुमाइश में अवाम का दाख़िला मुफ़्त है । मुमताज़ समाजी कारकुन और इन्क़िलाबी क़ाइद ग़दर ने कल‌ सियासत आर्ट गैलरी के ज़ेर एहतेमाम सालार जंग म्यूज़ीयम में जारी ख़ुसूसी नुमाइश का मुशाहिदा किया और कहा कि ये नुमाइश इस्लामी ख़त्ताती का अज़ीम सरमाया है आज मुख़्तलिफ़ स्कूल्स के हज़ारों तलबा ने नुमाइश देखी दिन बदिन नुमाइश में अवाम के हुजूम के पेशे नज़र इंतेज़ामीया ने जुमा की तातील के बावजूद नुमाइश खुली रखने का ऐलान किया है ।

ये नुमाइश म्यूज़ीयम के नवाब मीर तुराब अली ख़ां भवन की दूसरी मंज़िल के वसीअ-ओ-अरीज़ एयरकंडीशनिंग हालों में जारी है जिस में बेन उल-अक़वामी शौहरत याफ़ता हैदराबादी फ़नकार-ओ-ख़त्तात जनाब मुहम्मद नियम साबरी , जनाब मुहम्मद अब्दुह लतीफ़ , जनाब रज़ी अलुद्दीन इक़बाल , जनाब नसीर सुलतान , जनाब ज़मीर अलुद्दीन निज़ामी , जनाब अब्दुलग़फ़्फ़ार , जनाब मुहम्मद रफ़ी , जनाब मुहम्मद फहीम , जनाब मुहम्मद अब्दुलक़ादिर , जनाब अमीर उल-इस्लाम और हाफ़िज़ अब्दुलसत्तार के ख़त्ताती के नमूने रखे गए हैं नुमाइश में दाख़िले के औक़ात सुबह दस्ता पाँच साअत शाम हैं । कल‌ नुमाइश का मुशाहिदा करने वाले मोअज़्ज़िज़ीन में मुहतरमा मिनहाज फ़ातिमा वाइस प्रिंसिपल मेस्कू ग्रेड मुल्क पीटी और मुहतरमा नग़मा सुलताना मदीनतुल उलूम मुशीरआबाद शामिल थे ।।

TOPPOPULARRECENT