Thursday , December 14 2017

ख़ानगी स्कूल्स में दाख़िलों का बढ़ता रुजहान ख़ुश आइंद- पल्लम राजू

हैदराबाद 18 फ़रवरी (एजेंसीज़) मर्कज़ी वज़ीर फ़रोग़ इंसानी वसाइल एम एम पल्लम राजू ने कहा कि माँ-बाप में अपने बच्चों को ख़ानगी स्कूल्स में शरीक कराने के बढ़ते हुए रुजहान में कोई क़बाहत नहीं है। इस रुजहान से ये ज़ाहिर होता है कि समाज म

हैदराबाद 18 फ़रवरी (एजेंसीज़) मर्कज़ी वज़ीर फ़रोग़ इंसानी वसाइल एम एम पल्लम राजू ने कहा कि माँ-बाप में अपने बच्चों को ख़ानगी स्कूल्स में शरीक कराने के बढ़ते हुए रुजहान में कोई क़बाहत नहीं है। इस रुजहान से ये ज़ाहिर होता है कि समाज में बेहतर मुस्तक़बिल की ख़ाहिश बढ़ रही है।

इस रुजहान में कोई ग़लती नहीं है। ये समाज में आगे बढ़ने और तरक़्क़ी करने का जज़बा है। उन्हों ने कहा कि इस का मतलब ये नहीं है कि सरकारी स्कूल्स में तालीम बेहतर नहीं है बल्कि सरकारी स्कूल्स में ख़ानगी स्कूल्स से ज़्यादा बेहतर तालीम दी जा रही है।

पल्लम राजू आला तालीम में इंसानी इक़दार पर बैनुल अक़वामी कान्फ़्रेंस से मुख़ातब थे।

TOPPOPULARRECENT