Friday , December 15 2017

खातून को चलती गाड़ी से फेंका

नौबतपुर थाना इलाक़े के सरारी गांव के नजदीक पीर की सुबह बाइतुल खुला करने जा रही खातून को बोलेरो सवार असलाह मुजरिमों ने सरेआम यरगमाल करते हुए उसके साथ छेड़खानी की। इस दौरान खातून ने बदमाशों के चंगुल से बचने के लिए चिल्लाने लगीं। खात

नौबतपुर थाना इलाक़े के सरारी गांव के नजदीक पीर की सुबह बाइतुल खुला करने जा रही खातून को बोलेरो सवार असलाह मुजरिमों ने सरेआम यरगमाल करते हुए उसके साथ छेड़खानी की। इस दौरान खातून ने बदमाशों के चंगुल से बचने के लिए चिल्लाने लगीं। खातून की आवाज सुन कर पीछे से आ रहे बाइक सवार नौजवानो ने ललकारते हुए गाड़ी का पीछा करना शुरू कर दिया और इसकी खबर गाँव वालों को दी। खुद को फंसता देख कर बोलेरो सवार ने उस खातून को फतेहपुर गांव के नजदीक चलती गाड़ी से फेंक कर फरार हो गये।

तीन पुलिस अहलकार और दर्जन भर लोग जख्मी

गाँव वालों की तरफ से यरगमाल की इत्तिला देने के बाद भी पुलिस ने मामले को नोटिस में नहीं लिया। ये देख कर गाँव वाले गुस्सा हो गये और नौबतपुर-दुल्हिन बाजार अहम रास्ते को जाम कर दिया। रोड जाम की जानकारी मिलते ही थाना इंचार्ज पुलेंद्र सिंह व फुलवारीशरीफ डीएसपी मौके पर पहुंच कर गाँव वालों को समझाने की कोशिश करने लगे, लेकिन देही मुजरिमों की गिरफ्तारी तक रोड से हटने को तैयार नहीं हुए।

इस दौरान पुलिस ने गाँव वाले के साथ गलत अलफाज का इस्तेमाल भी किया। इससे गाँव वाले तशद्दुद हो गये और मौके पर पहुंचे पुलिस बल पर पथराव कर दिया। इसमें पुलिस बल के जवान निरंजन कुमार, मनोज कुमार मिश्र और मनोज कुमार संगीन तौर से जख्मी हो गये। पुलिस ने भीड़ को क़ाबू करने के लिए गाँव वालों पर लाठी चार्ज करते हुए आंसू गैस छोड़े। लाठी चार्ज से दर्जन भर लोगों को संगीन चोटें आयीं। किसी वाकिया की खदशा को देखते हुए पुलिस वहां कैंप लगा कर गश्त कर रही है।

TOPPOPULARRECENT