Monday , December 18 2017

खाद की कीमतों में इज़ाफ़ा के ख़िलाफ़ चौहान की भूक हड़ताल?

वज़ीर ए आला मध्य प्रदेश शिवराज सिंह चौहान ने आज एक बयान देते हुए कहा कि वो खाद की कीमतों में बेतहाशा इज़ाफ़ा के ख़िलाफ़ बतौर-ए-एहतजाज 15 जून को एक रोज़ा भूक हड़ताल करते हुए मर्कज़ी हुकूमत ( केंद्र सरकार) पर दबाव डालेंगे कि वो इज़ाफ़ा शूदा कीमतो

वज़ीर ए आला मध्य प्रदेश शिवराज सिंह चौहान ने आज एक बयान देते हुए कहा कि वो खाद की कीमतों में बेतहाशा इज़ाफ़ा के ख़िलाफ़ बतौर-ए-एहतजाज 15 जून को एक रोज़ा भूक हड़ताल करते हुए मर्कज़ी हुकूमत ( केंद्र सरकार) पर दबाव डालेंगे कि वो इज़ाफ़ा शूदा कीमतों को फ़ौरी वापस लिया जाए ।

अख़बारी नुमाइंदों ( पत्रकारों) से बात करते हुए उन्होंने कहा कि सिर्फ अंदरून एक साल में खाद की कीमतों में तकरीबन दो गुना इज़ाफ़ा हो चुका है । खाद की कीमतों में बेतहाशा इज़ाफ़ा ने किसानों की कमर तोड़ दी है और अब उन के लिए ज़राअत ( खेती) का पेशा जारी रखना मुश्किल हो गया है ।

उन्होंने कहा कि अगर 15 जून से क़बल खाद की इज़ाफ़ा शूदा कीमतों को वापस ले लिया गया तो वो अपनी भूक हड़ताल से दस्तबरदार (हट) हों जाएंगे । उन्होंने कहा कि इन की हुकूमत के तीन अहम मुतालिबात हैं और वो चाहते हैं कि मर्कज़ ( केंद्र) इन तीनों मुतालिबात को आजलाना तौर पर तस्लीम ( स्वीकार) करे।

मर्कज़ ( केंद्र) को खाद की इज़ाफ़ा शूदा कीमतें वापस लेनी चाहीए। खाद के लिए एक मूसिर ( ताकतवर) पालीसी साज़ की जाए और इस बात को यक़ीनी बनाया जाए कि किसी भी रियासत ( राज्य) को मुख़तस कर्दा खाद की मिक़दार को इस रियासत तक बला रुकावट पहुंचे।

TOPPOPULARRECENT