Thursday , December 14 2017

खानदान समेत भोजपुरी गुलोकार ने की खुदकुशी

भोजपुरी गुलोकार विकास राय समेत उनके खानदान छह मेंबरों ने जुमेरात की रात जहर खाकर खुदकुशी कर ली। यह वाकिया डेहरी शहर की लाला कॉलोनी की है। बताया जाता है कि विकास का फैमिली कुछ दिनों से इक़्तेसादी तंगी से जूझ रहा था। उनके वालिद ने बे

भोजपुरी गुलोकार विकास राय समेत उनके खानदान छह मेंबरों ने जुमेरात की रात जहर खाकर खुदकुशी कर ली। यह वाकिया डेहरी शहर की लाला कॉलोनी की है। बताया जाता है कि विकास का फैमिली कुछ दिनों से इक़्तेसादी तंगी से जूझ रहा था। उनके वालिद ने बेटे का कैरियर बनाने के लिए अबाई जायदाद बेच दी थी। कमरे से जमीन बिक्री के कागजात मिले हैं।

मरनेवालों में विकास के अलावा उनके वालिद वल्दा, छोटी बहन व दोनों छोटे भाई शामिल हैं। ये जिले के दिनारा थाने के पाहपी गांव के असल रहने वाले थे। संतोष सिंह ने अपने बेटे विकास को गुलोकार के तौर में कायम करने के लिए अपनी सारी जायदाद बेच दी थी और अभी डेहरी की लाला कॉलोनी में किराये के एक मकान में अपने खानदान के साथ रह रहे थे।

यहां जुमेरात की रात गुलोकार विकास, उसके भाई विशाल व गोलू, बहन ब्यूटी, वालिद संतोष और वालिदा सुनीता देवी ने सॉफ्ट ड्रिंक और मिठाई में सल्फास की गोली मिला कर खा ली। जुमेरात की सुबह काफी देर तक घर से आवाज नहीं आने पर मकान मालिक को संदेह हुआ। उसने दरवाजा खटखटाया, लेकिन जवाब नहीं मिला। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस पड़ोसियों के साथ दरवाजा तोड़ कर अंदर दाखिल हुई, तो फॅमिली के तमाम मेम्बर फर्श पर पड़े थे। उनके मुंह से झाग निकल रहा था।

तमाम को अस्पताल ले जाया गया, जहां 14 साला गोलू को छोड़ कर सभी को मारे हुये का ऐलान कर दिया गया। बाद में गोलू ने नारायण मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इसके पहले गोलू को देखने के लिए मुक़ामी एमएलए ज्योति रश्मि भी अस्पताल पहुंचीं।

वाकिया की जानकारी मिलने पर मुक़ामी एमपी व मरकज़ी वज़ीर उपेंद्र कुशवाहा भी आ पहुंचे। इनके एलावा दीगर अवामी नुमाइंदे भी पहुंचे थे। एसपी शिवदीप लांडे ने बताया कि तहक़ीक़ात के लिए एफएसएल टीम को पटना से बुलाया गया है।

TOPPOPULARRECENT