Wednesday , September 19 2018

खालिदा जिया को भ्रष्टाचार के मामले में पांच साल की जेल

ढाका : बांग्लादेशी राजधानी ढाका में एक अदालत ने भ्रष्टाचार के मामले में पूर्व प्रधान मंत्री खालिदा जिया को पांच साल की जेल की सजा सुनाई है। चार अन्य को 10 साल की जेल की सजा दी गई है, डेली स्टार अख़बार के मुताबिक, विशेष अदालत -5 के न्यायाधीश एम.डी. अख्तरुजमान ने गुरुवार को पूर्व प्रधान मंत्री को सश्रम कारावास की सजा सुनाई। उन्होंने 632 पेज के फैसले के कुछ चुनिंदा हिस्सों को पढ़ा।

कानून और संसदीय मामलों के मंत्री अनीसुल हक ने कहा कि फैसले से साबित होता है कि कानून के ऊपर कोई भी नहीं है। जिया, देश के मुख्य विपक्षी बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) के अध्यक्ष हैं, जिया को अनाथालय ट्रस्ट के लिए निधि के गबन का आरोप लगाया गया था। इसी मामले में खालिद जिया के बेटे तारिक रहमान और चार अन्‍य को दोषी करार देते हुए 10-10 साल की जेल की सजा सुनाई है

72 साल की खालिदा जिया और उनके बेटे व बीएनपी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष तारिक रहमान समेत पांच लोगों के खिलाफ 2.52 लाख डॉलर के भ्रष्टाचार का आरोप थे और उन्हें इस मामले में ढाका कोर्ट के 5वें विशेष न्यायाधीश मोहम्मद अक्तारुज्जमान के समक्ष पेश किया गया जहां सुनवाई के दौरान उन्हें दोषी पाया गया।

खालिदा को सजा दिए जाने के बाद देश में तनाव बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। इसे देखते हुए ढाका मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने एक विशेष नोटिस जारी कर गुरुवार सुबह 4 बजे से सार्वजनिक रूप से लोगों के एकत्रित होने पर रोक लगा दी थी। रैपिड एक्शन बटालियान और सशस्त्र पुलिसबल को ढाका की सड़कों-गलियों में तैनात कर दिया गया था। जिया के बड़े बेटे तारिक रहमान को उनका राजनीतिक वारिस माना जाता है, रहमान, बीएनपी के उपाध्यक्ष, पिछले 9 सालों से लंदन में रह रहे हैं। सभी छह पर विदेशी दान से 21 मिलियन डॉलर (252,000 डॉलर) का मुआवजा देने का आरोप लगाया गया था, जिसका नाम राष्ट्रपति जियाउर रहमान, जिया के पति के नाम पर रखा गया था।

जिन चारों को 10 साल की जेल की सजा दी गई है, उनमें पूर्व सांसद कौजी सलीमुल हक, पूर्व प्रधान सचिव जिया, कमल उद्दीन सिद्दीकी, जिया के भतीजे मोमिनुर रहमान और कारोबारी शारफुद्दीन अहमद हैं।

TOPPOPULARRECENT